Connect with us

BIHAR

बिहार से झारखंड का सफर होगा केवल 2 किमी, नितिन गडकरी कल करेंगे शिलान्यास, लाखों की आबादी को मिलेगा लाभ

Published

on

केंद्र सरकार के सहयोग से बिहार में बनने वाले एक फूल दो राज्यों बिहार तथा झारखंड के बीच की दूरी को समाप्त कर देगा। केवल 2 किलोमीटर की यात्रा आपको पड़ोसी प्रदेश की धरती पर पहुंचा देगा। केंद्र सरकार के मंत्री नितिन गडकरी 14 नवंबर को स्कूल की आधारशिला रखेंगे और पुल निर्माण से दोनों राज्यों के बीच मजबूत संपर्क का होगी और लोग करीब आएंगे। पुल का निर्माण रोहतास जिले में होना है। तकरीबन 50 लाख की आबादी को डायरेक्ट तौर पर लाभ मिलेगा।

रोहतास जिले के नौहट्टा अंचल के पंडुका में सोन नदी पर पुल बनने से झारखंड की दूरी बहुत कम होगी। रोहतास से दो किमी की दूरी कवर करके बिहार के लोग पड़ोसी राज्य झारखंड पहुंचेंगे और झारखंड वासी बिहार। इस पुल के निर्माण होने से यूपी, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के कई जिले रोहतास के पड़ोसी होंगे। फिलहाल इन प्रांतों में जाने के लिए डेढ़ सौ से 200 किलोमीटर की लंबी दूरी तय करनी होती है।

झारखंड के गढ़वा जिला जाने के लिए जिले के लोगों को लगभग 150 किमी का लंबा सफर तय करना पड़ता है। मगर पुल का निर्माण हो जाने से 2 से 3 किलोमीटर सफर करने के बाद लोग गढ़वा श्रीनगर गांव पहुंचेंगे। जबकि गढ़वा की दूरी केवल 35 से 40 किमी होगी।‌ उसी तरह पंडुका पुल निर्माण से सफर कर छत्तीसगढ़ के रामानुजगंज की दूरी केवल 98-99 किमी होगी। फिलहाल जाने में लगभग 220 किमी की दूरी तय करनी होती है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी 14 नवंबर को पंडुका पुल की आधारशिला करेंगे।