Connect with us

NATIONAL

देश में अब पराली से नहीं बढ़ेगा प्रदूषण, बायो CNG तथा LNG का होगा निर्माण, गडकरी ने कहीं ये बातें।

Published

on

केंद्रीय सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मामले के मंत्री नितिन गडकरी ने पराली से बायो सीएनजी और एलएनजी बनाने की बात कहीं है। गडकरी ने कहा कि हमने पराली से बायो बायो सीएनजी और एलएनजी बनाया है, जिससे बसें तथा ट्रैक्टर चल सकती हैं। हरियाणा के पानीपत में इंडियन आयल ने बड़ा प्रोजेक्ट बनाया है। वहां पराली से प्रतिदिन 150 टन बायो बिटुमेन और 1 लाख लीटर इथेनाल बन रहा है। हम इस बिटुमेन को रोड निर्माण हेतु उपयोग करेंगे।

दिल्ली में प्रदूषण की समस्या से मुक्ति को लेकर गडकरी ने कहा है कि इसका निष्पादन निकालना थोड़ा दिक्कत जरूर है, मगर नामुमकिन नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर भारत सरकार, राज्य सरकार, किसान और नगर निगम मिलकर कोशिश करेंगे, तो इस समस्या का निष्पादन हो सकता है। आगे कहा कि हमें राजनीति को पीछे छोड़कर प्रदूषण की समस्या से पार पाने के लिए साथ ही मिलकर काम करना चाहिए।

केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि दिल्ली के चारों तरफ 60 हजार करोड़ रुपये खर्च कर सड़कें निर्माण की जा रही है। जिससे दिल्ली ट्रैफिक से मुक्त होगी। इसके साथ ही इलेक्ट्रिक गाड़ियों तथा ग्रीन हाइड्रोजन लाने की बात कही, जिससे हवा के साथ ही ध्वनि प्रदूषण पर कंट्रोल किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि मैं ग्रीन हाइड्रोजन की व्हीकल में घूमकर उसका प्रोमोशन करता हूं। हम लोगों को इलेक्ट्रीक वातानुकूलित बसों में घुमाकर रेंट में 20-30 प्रतिशत तक कमी कर सकते हैं।’

गडकरी ने सड़क हादसों को लेकर कहा कि इसपर लोगों को ध्यान आकर्षित करना चाहिए। उन्होंने लोगों से यातायात नियमों का पालन करने का आग्रह करते हुए कहा कि हमारे यहां 5 लाख सड़क हादसों का आंकड़ा हैं, जिनमें अधिकतर 18 से 34 उम्र वर्ग के लोग शिकार हुए हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सड़क हादसों से बचने के लिए लोगों को एजुकेटेड करने की सख्त जरूरत है।