Connect with us

NATIONAL

सुकन्या समृद्धि के तहत अब 3 बेटियों का भी खुल सकेगा खाता, जाने नया नियम।

Published

on

लोगों की सुविधा के लिए सरकार अलग-अलग प्रकार कि योजनाएं चला रही है। ताकि लोगों को किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं हो। इसी क्रम में सरकार द्वारा चलाई जा रही सुकन्या समृद्धि योजना बेटियों के लिए वरदान साबित हो रही है। इस योजना के अंतर्गत कोई भी अपनी बेटी के नाम पर छोटी बचत करवा सकता है। आपको बता दें कि फिलहाल सरकार द्वारा सुकन्या समृद्धि योजना में बड़ा बदलाव करते हुए नियम में परिवर्तन किया गया है। दअसल नए नियमों के अंतर्गत अब इस योजना में निवेश करना, खाता बंद करना और भी आसान हो गया है।

मालूम हो कि सुकन्या समृद्धि योजना में लड़कियों के नाम पर प्रति माह थोड़ी-थोड़ी बचत की जाती है। इसमें निवेश करने से बेटी जब 21 वर्ष की हो जाती है तो लाखों रुपए मिलते हैं। दरसल अब नए नियमों के तहत अगर एक बेटी के बाद जुड़वां बेटी होती है तो अब दोनों के लिए खाता खोलने का प्रावधान किया गया है। ऐसे आप 3 बेटियों को इस योजना का लाभ मिल सकता हैं। साथ ही पहले यह नियम था कि 18 वर्ष में खाते में जमा राशि और ब्याज की आधी राशि तथा 21 साल की उम्र में पूरी जमा राशि निकाल सकेगी। वहीं डाक अधीक्षक ने कहा कि इस योजना में पहले 2 बेटियों के खाते पर हैं 80 सी के तहत टैक्स छूट का प्रावधान था।

और इसमें से तीसरी बेटी पर इस योजना का लाभ नहीं मिलता था, लेकिन नए नियमों में अब यदि एक बेटी के बाद दो जुड़वां बेटी होती है तो उन दोनों को भी इस योजना का लाभ मिलेगा। अगर एक पिता के 3 बेटियां हैं तो वह तीनों के नाम से पैसा जमा कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि इस योजना में सालाना कम से कम 250 रुपये व अधिक से अधिक डेढ़ लाख रुपये जमा कर सकते हैं। न्यूनतम राशि पर अकाउंट डिफॉल्ट हो जाता है। खाते को फिर से एक्टिव नहीं कराने पर मैच्योर होने तक अकाउंट में जमा राशि पर लागू दर से ब्याज मिलता रहेगा।

बता दें कि सुकन्या समृद्धि योजना में पहले यह नियम था की बेटी 10 वर्ष की उम्र में खाते को बेटियों को खाता अपडेट कर सकती थी। लेकिन नए नियमों के मुताबिक 18 साल से पहले बेटियों को खाता अपडेट नहीं कर सकती है। इससे पूर्व अभिभावक या माता-पिता ही खाते को ऑपरेट कर सकेंगे। आपको बता दें कि सुकन्या समृद्धि योजना के लिए बेटी का बर्थ सर्टिफिकेट, पैन कार्ड, माता-पिता का पहचान पत्र, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट इनमें से कोई भी एक देना होगा। एड्रेस प्रूफ के दस्तावेज सबमिट करना होगा। इसमें बिजली बिल, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, राशन कार्ड वैलिड है बैंक या पोस्ट ऑफिस में डॉक्युमेंट की वेरिफिकेशन होने के बाद अकाउंट खुल जाएगा।