Connect with us

BIHAR

भागलपुर के लोगों के लिए अच्छी खबर, केंद्र सरकार ने इस सड़क के निर्माण को दी मंजूरी।

Published

on

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने बिहार के दोगच्छी से जीरोमाइल मुख्य सड़क को टेंडर राशि से 9 फ़ीसदी अधिक से बनवाने की स्वीकृति प्रदान की है। साल भर से पेंडिंग ठेकेदार बहाली प्रक्रिया सड़क मंत्रालय से मुहर लगने के साथ पूर्ण हो गई है। निविदा राशि लगभग 9 करोड़ है। सड़क निर्माण की जिम्मेदारी मुंगेर के ठेकेदार निरंजन शर्मा को सौंपा गया।

पथ निर्माण विभाग कार्य प्रमंडल, भागलपुर के कार्यपालक इंजीनियर नवल किशोर सिंह बताते हैं कि मंत्रालय से स्वीकृति मिल गयी है। अब केवल मंजूरी पत्र आना बाकी है। लेटर मिलते ही वर्क आर्डर जारी होगा। सड़क टेंडर राशि से 9 फीसदी अधिक खर्च से बनेगी। उन्होंने जानकारी दी कि इस तरह के लिए टेंडर की प्रक्रिया अपनाई जा रही थी। यह सड़क पूर्व में राष्ट्रीय राजमार्ग 80 का हिस्सा था। बाईपास निर्माण के बाद दोगच्छी से जीरोमाइल तक रोड पथ निर्माण विभाग कार्य प्रमंडल, भागलपुर को स्थानांतरित हो गयी है। सड़क निर्माण और रखरखाव विभाग ही कराएगा।

वहीं, मुस्लिम हाई स्कूल के नजदीक 100 मीटर पीक्यूसी सड़क का निर्माण होगा। पथ निर्माण विभाग के अधिकारी बताते हैं कि यहां पर नाले का जल सड़क पर बहता है जिससे सड़क ज्यादातर नुकसान हो जाता है। पीक्यूसी बनने से सड़क की स्थिति मजबूत होगी। उन्होंने कहा कि अनेजा गोपाल कतरा की रोड का निर्माण होगा और कुछ जगहों पर मास्टिक एस्फाल्ट की रोड बनेगी।

बता दें दोगच्छी से जीरोमाइल तक सड़क निर्माण हेतु चयनित ठेकेदार को छह महीने में काम पूर्ण करना होगा। यही नहीं, सड़क निर्माण के पश्चात पांच सालों तक इसका मेंटनेंस भी कराते रहना होगा। दोगच्छी से जीरोमाइल के बीच सड़क निर्माण से यह चकाचक होगी और जाम से भी मुक्ति मिलेगी।