Connect with us

BIHAR

जानें कब तक बनेगा भागलपुर का भोलानाथ फ्लाईओवर ब्रिज, ये रही तमाम जानकारियां।

Published

on

भागलपुर में मिरजानहाट शीतला स्थान चौक तथा भीखनपुर गुमटी संख्या तीन के मध्य 1390 मीटर लंबा निर्माण होने वाले भोलानाथ फ्लाइओवर निर्माण में निविदा का पचड़ा समाप्त हो गया है। इस फ्लाइओवर के बनाने में भागलपुर व प्रदेश की चार एजेंसियां त्रिवेणी कंस्ट्रक्शन, गणेश डोकानिया, राजीव कंस्ट्रक्शन और श्रीराम कंस्ट्रक्शन ने रुचि दिखाई है। ये चार एजेंसियों की टेंडर की तकनीकी बिड ओपन की गई है। तकनीकी बिड का मूल्यांकन होगा।

बता दें कि इसमें सफल एजेंसी का फाइनेंशियल बिड खुलेगा। जिस एजेंसी का फाइनेंशियल बिड खुलेगा उसी के नाम फ्लाइओवर बनाने के लिए वर्क आर्डर निर्गत होगा। पुल निर्माण निगम के इंजीनियर के अनुसार 30 दिनों के अंदर निर्माण एजेंसी का चयन किया जाएगा। सबकुछ सही रहा तो 137 करोड़ खर्च कर बनने वाले इस फ्लाइओवर का निर्माण साल 2023 के फरवरी तक आरंभ और इसी साल के मई-जून तक पूर्ण करने की तैयारी है।

भोलानाथ तथा बौसी रेलवे पुल से साढ़े सात मीटर ऊंचा यानी टू-लेन निर्माण होने वाले इस फ्लाइओवर का मध्य में 3.75 मीटर पिलर का निर्माण होगा। फ्लाइओवर के ऊपर तथा नीचे रोशनी का प्रबंध किया जाएगा। निर्माण आरंभ करने से पूर्व अतिक्रमण मुक्त करने और जमीन-अर्जन की कार्रवाई होगी। खंभे व बिजली तारों आदि का शिफ्टिंग का काम किया जाएगा। 10 से 15 जगहों में बेहद कम भू-अर्जन की आवश्यकता पड़ेगी। हालांकि, फिलहाल इसमें इशाकचक तथा डिक्शन मोड़ के नजदीक सर्विस सड़क को नहीं शामिल किया गया है। आगामी दिनों में सर्विस रोड बनाने पर सोचा जाएगा।

भोलानाथ फ्लाईओवर निर्माण की बात पर भागलपुर के लोगों ने प्रसन्नता व्यक्त की है। लेकिन सवाल उठा रहे हैं कि अगर फ्लाईओवर से न्यूनतम दो जगह संपर्क रोड नहीं बनता है तो इसका कोई विशेष महत्व नहीं होगा। लोगों को दिक्कत अधिक होगी। विशेष तौर पर इशाकचक चौक की तरफ रहने वाले लोगों को काफी दिक्कत होगा।