Connect with us

BIHAR

बिहार में चौतरफा लगेंगे उद्योग-धंधे, आवंटित हुए 6 औद्योगिक क्षेत्र, इन परियोजनाओं को मंजूरी

Published

on

बिहार में उद्योग विस्तार को लेकर सरकार निरंतर कार्य कर रही है। अब इसी कड़ी में प्रदेश में 6 नए औद्योगिक क्षेत्र अलॉट किए गए हैं। बियाडा के माध्यम से इन औद्योगिक क्षेत्रों का संचालन किया जाएगा। आलोट किए गए इंडस्ट्रियल एरिया में पटना में सिकंदरपुर इंडस्ट्रियल एरिया, बक्सर जिले में डुमरांव औद्योगिक क्षेत्र, सहरसा जिले में बैजनाथ औद्योगिक क्षेत्र, रोहतास जिले में सासाराम औद्योगिक क्षेत्र, सुपौल औद्योगिक क्षेत्र और खगड़िया औद्योगिक क्षेत्र शामिल हैं।

नये औद्योगिक क्षेत्र में 500 एकड़ से ज्यादा जमीन उद्योगों हेत आवंटित की जायेगी। इन औद्योगिक क्षेत्रों में निवेश का रास्ता तैयार हो गया है। यहां के औद्योगिक यूनिटों की कीमत तय की जायेगी‌। आधिकारिक जानकारी के अनुसार सुपौल औद्योगिक क्षेत्र में 93.33, सिकंदरपुर औद्योगिक क्षेत्र में 299.85 एकड़, डुमरांव औद्योगिक क्षेत्र में 9.16 , बैजनाथ औद्योगिक क्षेत्र में 48.9, खगड़िया औद्योगिक क्षेत्र में 4.347 एकड़ और सासाराम औद्योगिक क्षेत्र में 79.46 जमीन उपलब्ध है। बियाडा संचालित औद्योगिक क्षेत्रों की संख्या 74 से 80 हो गयी है।

स्टेट निवेश संवर्धन बोर्ड की 42 की मीटिंग में करोड़ के पहले फेज की 51 परियोजनाओं को स्वीकृति दी गई। शुक्रवार को संपन्न बैठक में रोहतास जिले में इथेनॉल फैक्ट्री लगाने का फैसला लिया। यह बैठक विकास आयोग के नेतृत्व में हुई। जिसमें उद्योग विभाग के प्रधान सचिव और अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

शुक्रवार को हुई बैठक में 499.3 करोड़ की परियोजना लागत के साथ कपड़ा, खाद्य प्रसंस्करण और विनिर्माण क्षेत्रों से 51 परियोजनाओं को पहले फेज की स्वीकृति दी गई। इसके साथ ही 342 करोड़ की 13 परियोजनाओं को वित्तीय स्वीकृति दी गयी। निवेश संवर्धन बोर्ड के बैठक में मोतिहारी जिले में 25 नई टेक्सटाइल फैक्ट्री लगाने के प्रस्तावों पर मुहर लगाई गई।