Connect with us

BIHAR

भागलपुर को 1.39 किमी लंबे फ्लाईओवर की सौगात, जानें कब से शरू होगा निर्माण और कब पूरा होगा निर्माण।

Published

on

भागलपुर के भोलानाथ फ्लाइओवर का निर्माण अगले साल के फरवरी में शुरू होगा। बिहार राज्य पुल निर्माण निगम के अधिकारियों के मुताबिक मई 2024 तक फ्लाइओवर पर गाड़ियां चलने लगेगी। बिहार राज्य पुल निर्माण निगम के प्रबंध निदेशक से मंजूरी मिलने के साथ भोलानाथ फ्लाइओवर के निर्माण में आ रही तमाम बाधाओं को दूर होने के बाद सोमवार को फ्लाइओवर का टेंडर निकला। टेंडर भरने के लिए ठीकेदार को 10 अक्टूबर तक का समय निर्धारित किया गया है।

बता दें कि टेंडर का तकनीकी बिड 14 अक्टूबर को खुलेगा और इसमें सफल ठीकेदार का वित्तीय बिड खुलेगा। मिरजानहाट शीतला स्थान चौक से भीखनपुर गुमटी नंबर तीन तक 1390 मीटर लंबाई में वाले इस फ्लाइओवर के निर्माण में टोटल 137 करोड़ रुपये की लागत आएगी। इस फ्लाइओवर के बीच में 3.75 मीटर के 60 से ज्यादा पिलरों का निर्माण होगा।

फ्लाइओवर के ऊपर और नीचे लाइट की व्यवस्था की जाएगी। बार-बार लाइट को बुझाने और जलाने की झंझट से मुक्ति पाने और बिजली बिल का भुगतान की समस्या के निजात के लिए सोलर लाइट लगाया जाएगा। विभाग के अधिकारियों की मानें तो सर्वे का काम रविवार को पूरा हो गया है। निर्माण शुरू होने से पूर्व अतिक्रमण मुक्त करने और जमीन अधिग्रहण की कार्रवाई होगी‌। खंभे व बिजली के तारों को शिफ्टिंग का काम किया जाएगा। उन्होंने बताया कि फ्लाइओवर निर्माण हेतु 12.5 मीटर चौड़ी जगह चाहिए। इसके लिए काफी जगह है। 12-14 जगहों में बहुत कम जमीन अधिग्रहण की जरूरत होगी।

पुल निर्माण निगम भागलपुर प्रमंडल के वरीय परियोजना अभियंता श्रीकांत शर्मा ने बताया कि भोलानाथ फ्लाइओवर का लंबाई 1240 मीटर से बढ़ाकर 1390 किया गया है। इशाकचक और डिक्शन मोड़ के समीप सर्विस रोड को इसमें नहीं शामिल किया गया है। भविष्य में आवश्यकता पड़ने पर सर्विस रोड निर्माण पर सोचा जाएगा। इसलिए इशाकचक के नजदीक इसके लिए विकल्प के तौर पर खुला रखा जाएगा। अगले साल के जनवरी-फरवरी में निर्माण शुरू तथा मई 2024 तक पूरा करने का टारगेट रखा गया है।