Connect with us

BIHAR

समस्तीपुर के रेलवे गुमटी पर लग रहा है इलेक्ट्रिक फाटक, लोगों को जाम से मिलेगी मुक्ति।

Published

on

समस्तीपुर में रेलवे गुमटियों पर ट्रेन के इंतजार में लगने वाले लंबे जाम से लोगों को अब मुक्ति मिलेगा। बीते दिन जितवारपुर रेलवे फाटक पर इलेक्ट्रॉनिक गेट लगाने का काम शुरू हुआ। अब यहां लगने वाले जाम से निजात मिल सकेगी। सुबह के समय यहां लंबा जाम लग जाता था। बता दें कि यह समस्तीपुर रेल डिवीजन के 200 से ज्यादा स्टेशन के लगभग वाले रेलवे फाटक पर इलेक्ट्रॉनिक गेट लगाने की योजना पर तेजी से काम चल रहा है। पहले फेज में रेलवे डिवीजन के समस्तीपुर-खगड़िया रेलखंड के वैसे रेलवे गुमटी पर इलेक्ट्रिक फाटक लगाया गया जो स्टेशन के पास है। और वहां इंटरलॉक सिस्टम से गेट बंद और खुलता है।

समस्तीपुर स्टेशन के नजदीक जितवारपुर रेलवे गुमटी नंबर 50 पर इंलेक्ट्रिक गेट पर मंगलवार को सुबह से ही काम करने लगा है। डीआरमए आलोक अग्रवाल ने जानकारी दी कि इससे कर्मचारी को आसानी होगी, वहीं गेट पर जाम से मुक्ति मिलेगी। ट्रेन गुजरते ही फाटक को खुल जाएगा। उन्होंने कहा कि धीरे-धीरे मंडल के मुख्य रेलवे गुमटी पर इलेक्ट्रिक फाटक लगाया जाएगा।

समस्तीपुर स्टेशन से पहला रेलवे फाटक संख्या 50 डी खोलते या लगाते समय अक्सर रेलवे गुमटी की तार टूट जाती थी, या फिर अन्य तकनीकी वजहों से गुमटी बंद नहीं हो पाता, तो इस हालात में स्टेशन पर ही ट्रेन को रोकना पड़ता है या ट्रेन की स्पीड धीमी करनी पड़ती थी। इसके चलते कई बार ट्रेन अपने निर्धारित समय से विलंब हो जाती हैं। वहीं कई दफा ट्रेन के चले के बाद तकनीकी वजह से गुमटी नहीं खुलता था। जिससे वहां गाड़ियों की लंबी कतार लग जाती थी।

रेलवे अधिकारियों की मानें तो सुबह आठ बजे से शाम के चार बजे तक इस मार्ग पर 20 गाड़ियां आती हैं। दिन के समय तो हर 30 मिनट पर एक ट्रेन आती है। सुबह में पांच मिनट के अंदर दो गाड़ियां है जिससे फाटक खुलने के साथ पुन: बंद कर दिया जाता है। जिससे लंबे समय तक लोगों को इंतजार करना पड़ता है।