Connect with us

BIHAR

बिहार और झारखंड का सफर होगा आसान, 31.24 करोड़ खर्च कर पुल निर्माण की प्रक्रिया शुरू

Published

on

बिहार और झारखंड को संपर्क स्थापित करने के लिए 31.24 करोड़ रुपए खर्च कर फोरलेन पुल का निर्माण किया जाएगा। निविदा की प्रक्रिया पूरी होते ही भागलपुर-गोड्डा पंजवारा के नजदीक चीर नदी पर पुल निर्माण को मंजूरी मिल गई है। फोरलेन पुल का निर्माण इसी साल के नवंबर में शुरू होगा। निर्धारित लक्ष्य के मुताबिक चयन की गई एजेंसी बेगूसराय के हरि कंस्ट्रक्शन एंड एसोसिएट को 24 महीने यानी 2024 में पुल का निर्माण पूरा करना है।

बता दें कि एनएच विभाग से शनिवार को चयनित एजेंसी को सिक्युरिटी मनी जमा करने के संबंध में लेटर मिल गई है। एनएच विभाग के अधिकारियों के मुताबिक पुल की लंबाई 220 और चौड़ाई 16 मीटर होगी। पुल के दोनों तरफ एक-एक मीटर चौड़ी फुटपाथ का निर्माण होना है। उच्च स्तरीय इस पुल निर्माण का कार्य नवंबर में शुरू होगा।

हालांकि चयनित एजेंसी कह रही है कि 24 महीने के जगह 18 से 20 महीने में ही पुल का निर्माण पूरा कर लेंगे। एजेंसी ने इस दिशा में प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। अधिकारी ने कहा है कि 59 वर्ष पुराने जर्जर पुल को ध्वस्त कर नया फोरलेन पुल का निर्माण किया जाएगा। ट्रैफिक के नजरिए से निर्माण शुरू करने से पूर्व डायवर्शन का निर्माण किया जाएगा। झारखंड और बिहार के वर्तमान में इस पुल से रोजाना 20 से 25 हजार गाड़ियों की आवाजाही होती है। क्षमता से ज्यादा लोड के वजह से जर्जर पुल किसी भी समय टूट सकता है। इस पुल के निर्माण हो जाने के बाद बिहार और झारखंड की आवाजाही का मार्ग बेहतर हो सकेगा।