Connect with us

BIHAR

बिहार में नीतीश कैबिनेट का हुआ विस्तार, जाने कौन बने मंत्री और किसे मिला कौन-सा मंत्रालय

Published

on

बिहार में राष्ट्रीय जनता दल और जनता दल युनाइटेड की नई सरकार गठन होने के बाद पहला मंत्रिमंडल विस्तार हो गया है। कुल 31 नए मंत्रियों ने शपथ ली है। बीजेपी का दामन छोड़ राजद के साथ सरकार बनाने वाले नीतीश सरकार के नए मंत्रियों ने राजभवन में आयोजित समारोह में शपथ ली। राज्यपाल फागू चौहान ने सर्वप्रथम 5 विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई। बता दें कि आज राजद कोटे से 16, जदयू से 11 और कांग्रेस कोटे से 2 मंत्रियों ने शपथ ली।

बता दें कि उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को स्वास्थ्य मंत्रालय मिला है। तेज प्रताप यादव को वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग मिला है। राज्यपाल ने सबसे पहले तेज प्रताप यादव, विजय कुमार चौधरी, आलोक मेहता, आफाक आलम और बिजेंद्र यादव को बुलाया था। सुपौल से विधायक विजय कुमार चौधरी ने मंत्री पद की शपथ ली है। वे पूर्व सरकार में शिक्षा मंत्री थे।

राजद कोटे से आलोक मेहता ने मंत्री पद की शपथ ली है। बता दें कि आलोक मेहता उजियारपुर से विधायक हैं और बिहार सरकार में मंत्री रह चुके हैं। इन पर 3 अपराधिक मामले दर्ज हैं और ये 7.36 करोड़ रुपए संपत्ति के मालिक हैं। लालू यादव के बड़े लाल तेज प्रताप यादव ने भी मंत्री पद की शपथ ली है। तेज प्रताप 12वीं तक पढ़े लिखे हैं। उनके पास 2.38 करोड़ की संपत्ति है।

कांग्रेस कोटे से आफाक आलम मंत्री बने हैं।अफाक पुर्णिया की कसबा सीट से विधायक निर्वाचित हैं। इनके पास लगभग 9 लाख की चल-अचल संपत्ति है‌‌। बता दें कि वह कसबा सीट से चार बार विधायक निर्वाचित हो चुके हैं।

राजभवन में हुए समारोह में राज्यपाल ने एक साथ पांच-पांच विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई है। दूसरे राउंड में अशोक चौधरी, सुरेंद्र यादव, श्रवण कुमार, रामानंद यादव और लेशी सिंह ने शपथ ली है। तीसरे राउंड में पांच विधायकों ने शपथ ली है। इन पांच विधायकों में ललित यादव, मदन सहनी, कुमार सर्वजीत, संजय झा और संतोष सुमन शामिल हैं। चौथे राउंड में शीला मंडल, सुनील कुमार, सुमित सिंह, समीर महाशेख और चंद्रशेखर ने मंत्री पद की शपथ ली है।

वहीं पांचवें राउंड में सुधाकर सिंह, अनीता देवी, मो. जमा खान, जयंत राज और जितेंद्र राय शामिल हैं। इसराइल मंसूरी, शहनवाज आलम, सुरेंद्र राम, मुरारी प्रसाद और कार्तिक सिंह और ने छठे राउंड में मंत्री पद की शपथ ली है। उधर, मंत्रिमंडल विस्तार होने के बाद राजद कोटा से बनाए गए मंत्रियों ने नीतीश को प्रधानमंत्री और तेजस्वी को मुख्यमंत्री बनाने की बात कही है।