Connect with us

BIHAR

पटना में अंडरग्राउंड मेट्रो के लिए सर्वे हुआ शुरू, इन मार्गों का ट्रैफिक हो सकता है डायवर्ट, जानिए…

Published

on

जल्द ही राजधानी पटना में अंडरग्राउंड मेट्रो चलने वाली है। पटना मेट्रो रेल परियोजना के तहत अंडर ग्राउंड स्टेशनों पर प्रारंभिक काम आगे बढ़ रहा है। वहीं पटना ट्रैफिक पुलिस ने कॉरिडोर II पर पहले से प्रस्तावित भूमिगत मेट्रो नेटवर्क के साथ ही अल्टरनेट रूट्स का सर्वे शुरू किया है। ऐसा इसलिए हो रहा है जिससे सिविल काम के दौरान इसे ट्रैफिक के लिए खोला जा सके।

ट्रैफिक पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, अशोक राजपथ, फ्रेजर रोड और गांधी मैदान पर ट्रैफिक को डायवर्ट की जाने से गाड़ियों की आवाजाही प्रभावित होगी। ऐसे में लोगों की सुविधा के लिए वैकल्पिक सड़कों की मरम्मत का काम हो गया है हारमोनिया महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट के पूरा होने तक बाकायदा रखरखाव भी किया जाएगा।

बता दें कि फ्रेजर रोड का पश्चिमी साइड बंद रहेगा जबकि यथावत पूर्वी फ्लैक रहेगा। पीएमसीएच पटना विश्वविद्यालय के नजदीक अशोक राजपथ पर एक फ्लैक को बंद किया जाएगा और कुछ खास को हटाया जाएगा जिससे दूसरे फ्लैक को चौड़ा किया जाएगा। जिसका इस्तेमाल दो तरफा ट्रैफिक के लिए किया जाएगा। मालूम हो कि पटना मेट्रो रेल प्रोजेक्ट के तहत 7.9 किलोमीटर के भूमिगत नेटवर्क में पटना जंक्शन आकाशवाणी, पीएमसीएच, गांधी मैदान, राजेंद्र नगर पटना विश्वविद्यालय और मोइन-उल-हक स्टेडियम में मेट्रो स्टेशन होंगे।

बताते चलें कि तीनों हिस्सों में रूट डायवर्जन की योजना तैयार की जा रही है। जहां शीघ्र ही अंडर ग्राउंड स्टेशनों का निर्माण कार्य शुरू होगा। मेन डायवर्जन गांधी मैदान से कारगिल चौक एवं फ्रेजर रोड से डाकबंगला बीच के हैं। महिला कॉलेज से गांधी मैदान में उतरी तरफ को ब्लॉक किया जाएगा और कारगिल चौक की तरफ जाने वाले लोगों को दक्षिण लेन से होकर गुजरना होगा। ऑटो पड़ाव को हटाकर सड़क चौड़ीकरण कार इस गली को दो भागों में बांटने का काम जारी है। ट्रैफिक पुलिस एसपी अनिल कुमार ने जानकारी दी कि दक्षिणी जिला में को अलग करने के लिए लोहे की छड़ बनाई गई है। उन्होंने बताया कि बाटा चौराहा के नजदीक दूसरा डायवर्जन होगा।