Connect with us

BIHAR

बिहार से चलने वाली कई ट्रेनों का 1 अक्टूबर बदलेगा टाइम टेबल, जानें क्या है वजह।

Published

on

बिहार से चलने एवं गुजरने वाली कई ट्रेनों का समय सारणी 1 अक्टूबर 2022 से बदल जाएगा। एक अक्टूबर से ट्रेनों के समय सारणी बदलने की तैयारी में पूर्व मध्य रेलवे जुटा हुआ है। इसके लिए एक बार बैठक भी हो चुकी है। ट्रेनों की टाइमिंग को कम किया जा सकता है। फिलहाल दो स्टेशनों के बीच समान दूरी में अप एवं डाउन दोनों दिशाओं की टाइमिंग में एक से डेढ़ घंटे का फासला होता है। इस दिक्कत को ठीक किया जा सकता है।

गत महीने बेंगलुरु में आयोजित बैठक में कई महत्वपूर्ण ट्रेनों के संदर्भ में चर्चा हुई। आगामी दिनों में एक से दो राउंड की बैठक और होनी है। ट्रेनों के टाइम टेबल बदलने पर रेलवे बोर्ड स्तर पर चर्चा होगी। पूर्व मध्य रेलवे के सीपीओ वीरेंद्र कुमार बताते हैं कि लंबी दूरी की ज्यादातर ट्रेनें दूसरे मंडल से आती हैं। यहां की ट्रेनें के समय से उसकी टाइमिंग को मैच करना पड़ता है। इसलिए इस मंडल से जब मुहर लगेगी, तभी नया टाइम टेबल लागू होगा।

प्रतीकात्मक चित्र

बताते चलें कि कई स्टेशनों के बीच केवल 2 से 4 किलोमीटर की दूरी तय करने में 1 से 2 घंटे का समय ट्रेनों को लग जाता है। कई ट्रेनें एक से डेढ़ घंटा में दानापुर से पटना जंक्शन पहुंचती है। सीपीआरओ कहते हैं कि ट्रैफिक लोड अधिक होता है तो सुपरफास्ट ट्रेनों को निकालने के लिए दूसरे ट्रेनों को रोक कार इन ट्रेनों को निकाला जाता है।