Connect with us

BIHAR

दरभंगा में शहरवासियों को जाम से मिलेगा निजात, इन दो रेल गुमटी पर ओवरब्रिज निर्माण को मंजूरी

Published

on

दरभंगा के बेला मोर और लहेरियासराय चट्टी गुमटी पर रेल ओवरब्रिज निर्माण की प्रशासनिक मंजूरी मिल गई है। बिहार सरकार के द्वारा मंजूरी मिलने के बाद अब 1 से 2 दिनों में इसकी नोटिस जारी की जाएगी। नोटिस जारी होने के बाद निविदा की प्रक्रिया शुरू होगी। टेंडर की प्रक्रिया 2 से 3 महीने में पूरा होकर इसी साल अक्टूबर या नवंबर महीने से निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा। रेल ओवरब्रिज निर्माण हो जाने के बाद शहरवासियों को जाम से मुक्ति मिलेगी।

बता दें कि बिहार पुल निर्माण निगम लिमिटेड ने शहर के लहेरियासराय चट्टी चौक, पंडासराय, बेला गुमटी, कगवा गुमटी, कुल पांच गुमटियों पर रेल ओवरब्रिज निर्माण के लिए डीपीआर बनाकर प्रशासनिक मंजूरी के लिए राज्य सरकार को भेजा है। इनमें दिल्ली मोड़ जाने वाली बेला गुमटी और लहेरियासराय चट्टी चौर पर आरओबी निर्माण की प्रशासनिक मंजूरी मिली है। बाकी आरओबी निर्माण के लिए शीघ्र ही प्रशासनिक मंजूरी मिलने की बात कही गई है।

प्रतीकात्मक चित्र

पुल निर्माण निगम लिमिटेड के कार्यपालक इंजीनियर दीपेश कुमार बताते हैं कि दो रेल ओवरब्रिज निर्माण को प्रशासनिक मंजूरी मिली है। अभी सोमवार को मौखिक जानकारी मिली है। एक से दो दिनों के भीतर लेटर भी मिल जाएगा। सरकार से लेटर मिलने के साथ ही केंद्र की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

नए नियम के मुताबिक रविवार के लिए जिस एजेंसी को काम आवंटित किया जाएगा, उसे 2 साल के अंदर निर्माण कार्य पूरा करना होगा। पहले इसका निर्माण रेलवे करती थी। फिर मई 2019 में बिहार सरकार और रेलवे ने समझौता किया कि पथ निर्माण विभाग अब आरओबी का निर्माण करेगा। समझौते के अनुसार बिहार में 55 रेल ओवरब्रिज निर्माण का फैसला पथ निर्माण विभाग के द्वारा लिया गया। रेलवे और बिहार सरकार दोनों मिलकर आरओबी निर्माण का खर्च करेगी।