Connect with us

NATIONAL

घर बनाने वालों के लिए जरूरी खबर, धड़ाम से गिरा सरिये का भाव, जाने कहां मिल रहा सबसे सस्ता सरिया

Published

on

लगभग डेढ़ माह तक लगातार सरिया की कीमत बढ़ने के बाद पुनः सरिया की कीमत में गिरावट आने लगी है। अपना मकान बनाने का सपना देख रहे लोगों के लिए यह गुड न्यूज़ है। मकान की मजबूती के लिए सबसे जरूरी सामग्री सरिया है और इसके रेट कम होने से मकान बनाने की लागत में काफी गिरावट आएगी। बीते दो सप्ताह के दौरान देश के अलग-अलग शहरों में सरिया कीमत में प्रति टन 4500 रुपए तक गिरावट आई है।

बता दें कि जून माह के पहले सप्ताह तक सरिया के रेट लगातार कम हुए थे। सरिया की कीमत लगभग-लगभग आधी हो गई थी। हालांकि जून माह में मॉनसून की इंट्री होते ही उनके कीमत तेजी से बढ़ने लगे थे। बीते डेढ़ महीने के दौरान तकरीबन हर सप्ताह सरिया की कीमत लगभग 1000 रूपए ऊपर चढ़ा था। अब देश के हर भाग में अच्छी खासी बारिश हो रही है, जिस वजह से निर्माण संबंधी काम में सुस्ती आई है। इसका प्रभाव सरिया व अन्य समाग्रियों की मांग पर हुआ है। मांग में कमी होने से पुनः इसके रेट गिर गए हैं।

प्रतीकात्मक चित्र

मार्च महीने में कुछ जगहों पर सरिया की कीमत 85 हजार रुपए टन तक पहुंच गया था। फिलहाल यह अलग-अलग शहर में 47,300 रुपये से लेकर 58,000 रुपए प्रति टन के करीब बिक रहा है। जून माह के पहले सप्ताह में इसकी कीमत कम होकर कई जगहों पर प्रति टन 44 हजार रुपए के पास हो गया था। ब्रांडेड कंपनियों की सरिया की कीमत कम होकर बीते महीने के शुरू में 80 से 85 हजार रुपए प्रति टन हो गया था। जो इसी साल के मार्च में प्रति टन 01 लाख रुपए हो गया था। फिलहाल पुनः सरिया की कीमत तेजी से गिरने लगा है।

देश के अन्य शहरों में सरिया की कीमत विभिन्न मात्रा में कम हुए हैं। आयरनमार्ट वेबसाइट के मुताबिक सबसे तेजी से राउरकिला और रायगढ़ में सरिया की कीमत कमी है। पिछले 2 सप्ताह में इन दोनों शहरों में सरिया की कीमत में प्रति टन 4500 रुपए तक गिरावट आई है। फिलहाल सबसे सस्ता सरिया वेस्ट बंगाल के दुर्गापुर में मिल रहा है। यहां इसकी कीमत प्रति टन 47,300 रुपए है। यूपी के कानपुर में सबसे ज्यादा सरिया की कीमत प्रति टन 58,000 रुपए के हिसाब से मिल रहा है। उपरोक्त बताए गए घर पर 18 फ़ीसदी जीएसटी अलग से लागू होगा।