Connect with us

NATIONAL

मकान बनवाने वालों के लिए जरूरी खबर, सरिया समेत भवन निर्माण सामग्री के दर में हुआ बदलाव, जाने नया रेट

Published

on

मई महीने में हाई रेट रहने के बाद सरिया का रेट देशभर में फिर से बढ़ने लगा है। जून के पहले ही सप्ताह से शुरू हुई कीमत में तेजी लगातार बढ़ रही है। इसी वजह से पिछले डेढ़ माह में देश के अलग-अलग शहरों में सरिया की कीमत 6500 रुपए प्रति टन तक महंगा हुआ है। इसका मुख्य वजह मानसून का आगमन और रेट कम होने पर मांग बढ़ना है। बारिश का सीजन शुरू होते ही सीमेंट, बालू, सरिया, ईंट आदि सहित सभी भवन निर्माण सामग्री के रेट बढ़ने लग जाते हैं।

इस साल के मार्च व अप्रैल माह के दौरान भवन निर्माण सामग्रियों की कीमतें टॉप पर पहुंच गई थी। उसके बाद सीमेंट और सरिया जैसे सामग्रियों के रेटों में काफी नरमी आई। विशेष रूप से जून महीने के पहले सप्ताह तक सरिया के रेट लगातार कम हुए। सरिया की कीमत लगभग-लगभग आधा हो गया था। हालांकि जून माह में मानसून की आहट होते ही पुनः इसके रेट बढ़ने लगे। इस दौरान हर सप्ताह लगभग सरिया की कीमत 1000 रूपए ऊपर चढ़ा है।

मार्च माह में सरिया की कीमत कुछ जगहों पर प्रति टन 85 हजार रुपए तक पहुंच गया था। फिलहाल अलग-अलग शहरों में 51,500 रुपए से लेकर 61,800 रुपए तक प्रति टन के रेट में मिल रहा है। जून माह के पहले सप्ताह में इसकी कीमत प्रति टन 44 हजार रुपए हो गया था। ब्रांडेड कंपनियों के सरिया की कीमत इस माह की शुरुआत में लगभग 80 से 85 हजार रुपए प्रति टन था, जिसकी कीमत मार्च महीने में प्रति टन 1 लाख रुपए थी।

देश के प्रमुख शहरों में सरिया की कीमत विभिन्न मात्रा में बढ़े हैं। आयरनमार्ट कोटा का सरिया की कीमतों पर नजर बनाए रखती है और उसी आधार पर रेटों को अपडेट करती है। प्रमुख शहर मुंबई में सरिया की कीमत पिछले डेढ़ माह में प्रति टन 500 रुपए बढ़ा है। वहीं देश के अन्य शहरों में इसकी कीमतों में प्रति टन 2500 रुपए से लेकर 6500 रुपए प्रति टन तक बढ़ोतरी हुई है। फिलहाल पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर में सबसे सस्ता दाम में सरिया मिल रहा है, यहां 1 टन सरिया की कीमत 51,500 रुपए है। (उपरोक्त चर्चा दर 18 फीसदी जीएसटी के बिना है, अर्थात इन दरों में 18 फ़ीसदी जीएसटी से जुड़ेगा।)