Connect with us

BIHAR

बिहार के सबसे बड़े 21 किमी लंबे एलिवेटेड रोड़ के निर्माण को मिली मंजूरी, जाने कहाँ से कहाँ तक होगा इसका निर्माण

Published

on

दानापुर रेलवे स्टेशन से बिहटा ईएसआई मेडिकल कालेज तक एलिवेटेड सड़क निर्माण को नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने मंजूरी दे दी है। निर्माण के लिए शुक्रवार को टेंडर भी निकल गया है। इस परियोजना के तहत 21 किलोमीटर लंबी एलिवेटेड कॉरिडोर का निर्माण होना है। इसके अलावे बीटा ईएसआई मेडिकल कॉलेज से 4 किलोमीटर कोईलवर पुल के नजदीक तक फोरलेन सड़क इस परियोजना का हिस्सा है। इसके निर्माण पर कुल 3737.51 करोड़ रुपए की लागत आएगी। टेंडर फाइल करने की आखिरी तारीख 29 अगस्त है।

दानापुर-बिहटा एलिवेटेड कारिडोर के अंतर्गत बिहटा हवाई अड्डे के एक लिंक रोड का निर्माण शामिल है। इसके अलावे कन्हौली, नेऊरागंज, बिशनपुरा और पैनाल में बाईपास का निर्माण शामिल है। वहीं, राजधानी पटना में इस एलिवेटेड सड़क का उपयोग कर रहे ट्रैफिक को इस टनेल के जरिए बिहटा हवाई अड्डे का रास्ता मिलेगा। सगुना मोड़ से एलिवेटेड कारिडोर तक एक रैंप का निर्माण होगा। बिहटा से कोईलवर तक एक अंडरपास और चार पुल का निर्माण किया जाना है।

प्रतीकात्मक चित्र

बिहार सरकार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने जानकारी दी कि एलिवेटेड कॉरिडोर का परियोजना बिहार के लिए घोषित पीएम पैकेज 2015 का हिस्सा है। इसके लिए 456 करोड़ रुपए खर्च कर नीतीश सरकार ने अपने फंड से भूमि का अधिग्रहण करना है। दानापुर रेलवे की भूमि के जगह राज्य सरकार हार्डिंग पार्क के दक्षिणी भाग की जमीन उपलब्ध करवाएगी।