Connect with us

BIHAR

बिहार के राशन कार्डधारियों का फ्री में होगा इलाज, नीतीश सरकार देगी 5 लाख रुपए, मंगल पांडे ने की घोषणा

Published

on

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने आयुष्मान भारत जन आरोग्य स्कीम के तहत शानदार प्रदर्शन करने वाले डॉक्टरों एवं अस्पतालों के लिए आयोजित सम्मान समारोह में संबोधित करते हुए कहा कि अब प्रदेश के तमाम राशनकार्ड धारियों को आयुष्मान भारत जन-आरोग्य स्कीम की तरह लाभ मिलेगा। जिसके बाद बिहार की 9 करोड़ जनसंख्या को हर साल 5 लाख रुपए का मुफ्त इलाज राज्य सरकार के फंड से होगा।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि वर्तमान में प्रदेश में 1.9 करोड़ परिवार इसकी स्कीम के तहत लाभार्थी है और उनका नाम केंद्र सरकार की लिस्ट में है। लेकिन प्रदेश के सभी राशन कार्ड धारी इस स्कीम का फायदा नहीं उठा पा रहे हैं। टोटल 1 करोड़ 80 लाख राशन कार्डधारी परिवारों की संख्या है। बाकी बचे तकरीबन 40 लाख राशन लाभुक परिवारों को प्रतिवर्ष 5 लाखों रुपए देने की योजना पर बिहार कैबिनेट ने मंजूरी दी है। इसके बाद बिहार के सभी राशन कार्ड धारियों को इसका लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि जन कल्याण के लिए स्वास्थ्य विभाग कार्यरत है।

प्रदेश में इस स्कीम के तहत 406 गवर्नमेंट और 379 गैर सरकारी हॉस्पिटल यानी टोटल 985 अस्पतालों का नाम लिस्ट में है। अब तक 4.11 लाख परिवारों को इस स्कीम के तहत 429 करोड़ रुपए से अधिक स्वास्थ्य लाभ मिल गया है। कोविड से जूझने के बावजूद दो साल से अधिक का समय हो गया है। सभी लोग जानते हैं कि हमारे डॉक्टरों ने प्रतिकूल परिस्थितियों में अपना योगदान दिया है और सरकारी योजनाओं को फलीभूत करने में अग्रणी भूमिका निभाई है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना स्कीम के तहत योग्य लाभार्थियों को फ्री में इलाज देने में डॉक्टरों और अस्पतालों का अहम योगदान है। मौके पर स्वास्थ्य मंत्री ने शानदार प्रदर्शन करने वाले 66 डॉक्टर और 5 अस्पताल को सम्मानित किया।