Connect with us

BIHAR

बिहार के इस जिले के इंजीनियरिंग कॉलेज में शुरू होने जा रही एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई

Published

on

बिहार में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने वाले छात्रों के लिए गुड न्यूज है। बिहार के किसी भी छात्र को एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग में एमटेक की पढ़ाई करना चाहता है तो उसे दूसरे राज्य जाने की नौबत नहीं पड़ेगी। नालंदा के चंडी इंजीनियरिंग कॉलेज में एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग में एम टेक की पढ़ाई शुरू होने वाली है। इस तरह की पढ़ाई करवाने वाला बिहार का ऐसा पहला इंजीनियरिंग कॉलेज होगा। इस कोर्स में इस साल 60 सीटों पर विद्यार्थियों का दाखिला लिया जाएगा।

बता दें कि पूरे देश में गिने-चुने आईआईटी सहित कुछ इंस्टिट्यूशन में ही इसकी पढ़ाई होती है। इसके पूर्व पावर सिस्टम में पढ़ाई के बाद अब एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग में मास्टर ऑफ टेक्नीशियन की पढ़ाई होगी। पिछले साल से इस कॉलेज में मास्टर ऑफ टेक्नीशियन की पढ़ाई शुरू हुई है। एनबीए से पावर सिस्टम का मान्यता प्राप्त हो जाने के बाद एक और पाठ्यक्रम के लिए एमटेक की स्वीकृति मिल गई है। एआईसीटीई के नियमों के मुताबिक स्पेशलाइजेशन पाठ्यक्रम शुरू लागू किया गया है।

प्रतीकात्मक चित्र

प्राचार्य डॉ राजन सरकार ने कहा किएयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग में विद्यार्थियों को एयरक्राफ्ट ऑपरेट करने की तकनीक और फ्लाइट के डिजाइन, स्टडी और रखरखाव से संबंधित पढ़ाई कराई जाती है। इस कोर्स में छात्रों का नामांकन गेट के स्कोर के आधार पर होता है ऐसे में नए पाठ्यक्रम में दाखिले की प्रक्रिया भी यही होगी।