Connect with us

BIHAR

इस जगह बनेगा बिहार का पहला ऑक्सीजन पार्क, लगेंगे विशेष प्रजाति के बांस के पौधे, शुद्ध होगा वातावरण।

Published

on

बिहार का पहला ऑक्सीजन पार्क राज्य के गोपालगंज जिले के थावे के जंगलों में बनेगा। बता दें कि आजादी अमृत महोत्सव के तहत देश के 75 शहरों के वन इलाकों को नगर वन स्कीम से विकसित किया जा रहा है। गोपालगंज के नजदीक स्थित थावे जंगल का इसके लिए चयन हुआ है। बनने वाली ऑक्सीजन पार्क में तमिलनाडु के सेलम की तरह बांस के विशेष प्रजाति के पौधे लगाए जाएंगे।

वन विभाग की मानें तो थावे में निर्माण होने वाले ऑक्सीजन पार्क में भीमा किस्म के बांस का पौधा लगेगा। कुछ समय बाद यह पौधे पेड़ बन जाएंगे। दूसरों पौधे के मुकाबले भीमा बांस 35 प्रतिशत ज्यादा ऑक्सीजन देते हैं। साथ ही यह अधिक समय तक लगे रहते हैं। इन्हें बार-बार लगाने की आवश्यकता नहीं होती है। इनका विकास भी काफी तेजी से होता है।

जल्द ही वन विभाग गोपालगंज के थावे वन कैंपस में ऑक्सीजन पार्क के लिए उचित जगह का चयन करेगा फिर ब्लूप्रिंट बनाएगा। इससे आसपास का माहौल शुद्ध होगा और पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। बनने वाले ऑक्सीजन पार्क में फव्वारे, झूले और जिम लगेंगे। परिसर में पहले से मौजूद तालाब का सौंदर्यीकरण होगा।

थावे मंदिर वन परिसर में मौजूद है। यहां देश और विदेश से हजारों की तादाद में भक्तजन पहुंचते हैं। उनके मद्देनजर ऑक्सीजन पार्क में पैदल सड़क बनाया जाएगा। ऑक्सीजन पार्क लग जाने के बाद शाम और सुबह के समय लोग टहलने आएंगे। पार्क में बैठकर आरामदायक तरीके से छात्र पढ़ाई पर सकेंगे। इससे लोगों का स्वास्थ्य में सुधार होगा। जैव विविधता के संवर्धन और संरक्षण में मदद मिलेगी।