Connect with us

BIHAR

आरा-मोहनियां फोरलेन का रिकॉर्ड गति से हो रहा निर्माण, तय समय से पहले इस समय तक पूरा हो सकता है निर्माण

Published

on

पटना से यूपी के बनारस को जोड़ने वाला आरा-मोहनियां नेशनल हाईवे फोरलेन का निर्माण कार्य निर्धारित समय से पहले ही पूरा करा लिया जाएगा। गणेश कुमार (सड़क निर्माण कंपनी अशोका बिल्डकान लिमिटेड के महाप्रबंधक) ने इस बाबत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दूसरे राज्यों में इस बात की चर्चा होती है कि अनावश्यक अवरोध उत्पन्न करने की वजह से बिहार में निर्माण काम में देरी होता है, लेकिन इसके उल्ट यहां के लोग बेहद सहयोगी हैं। इसके वजह से सड़क निर्माण काफी तेज गति से चल रहा है।

मंत्रालय के द्वारा फोरलेन सड़क निर्माण को पूरा करने की तारीख जुलाई 2023 निर्धारित किया गया है, लेकिन इसे फरवरी 2023 में ही पूरा कर लिया जाएगा। दो पैकेज के तहत पूरे 115 किलोमीटर लंबाई में सड़क का निर्माण चल रहा है। पहले पैकेज के तहत आरा से पररिया और दूसरे पैकेज के तहत पररिया से मोहनिया तक सड़क निर्माण होना है। भारतमाला परियोजना के पहले प्रोजेक्ट के तहत सड़क का निर्माण शुरू है। बता दे कि पहले पैकेज का 70 फीसद जबकि दूसरे पैकेज का 45 फीसद काम पूरा हो चुका है।

प्रतीकात्मक चित्र

महाप्रबंधक ने जानकारी दी कि 6 जून के दिन लगातार 20 घंटे में पांच किलोमीटर और 11 जून को 40 घंटे में 10 किलोमीटर लंबाई में सड़क का निर्माण हुआ है, जो बिहार में रिकार्ड बन गया है। उन्हें उम्मीद है कि निर्धारित समय से पहले ही फोरलेन सड़क का निर्माण पूरा हो जाएगा। इसके लिए निरंतर काम चल रहा है। परियोजना के सुचारू रूप से संचालन हेतु हुए के विशेष टीम गठित की गई है, जिसमें अजय श्रीवास्तव, संजय सिंह, दीपक पाटिल, उत्तम पांडे सहित अन्य को शामिल किया गया।