Connect with us

BIHAR

पटना PMCH में मल्टीपल पार्किंग निर्माण को मिली मंजूरी, 900 गाड़ियों की क्षमता वाले पार्किंग का जल्द होगा निर्माण।

Published

on

पटना मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल (PMCH) में गाड़ियों को खड़े करने के लिए मल्टीपल पार्किंग निर्माण को मंजूरी मिल गई है। प्रत्यय अमृत (अपर मुख्य सचिव, स्वास्थ्य विभाग) बीएमएसआइसीएल के अफसरों के साथ पीएमसीएच पहुंचे। यहां पट्टा यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर और पीएमसीएच के अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित कर सेंट्रल डिस्पेंसरी के बजाय पटना यूनिवर्सिटी को पीएमसीएच के चर्म विभाग को भवन देने पर बात बन गई है। इससे जुड़ी हुई तमाम प्रक्रिया 15 दिनों में पूरी हो जाएगी। एलएनटी कंट्रक्शन मल्टीपल पार्किंग भवन का निर्माण शुरू करेगी। जानकारी सामने आ रही है कि फिलहाल 900 गाड़ियों की क्षमता वाले पार्किंग का निर्माण किया जाएगा।

गंगा पाथ-वे से पीएमसीएच के जुड़ने और कैंपस में चल रहे निर्माण कामों के मद्देनजर रोगियों और चिकित्सा कर्मियों को गाड़ी पार्क करना बड़ी परेशानी बन गई है। इसके मद्देनजर बैठक में एजेंसी को आदेश दिया गया कि मल्टीपल पार्किंग का निर्माण जल्द से जल्द पूरा करें। फिलहाल गंगा पाथ-वे से आ रहे गाड़ियां मुख्य इमरजेंसी के ठीक सामने राजेंद्र सर्जिकल ब्लॉक में प्रसूति रोग या स्त्री विभाग व प्राचार्य-अधीक्षक दफ्तर के मध्य खड़े किए जा रहे हैं। अक्सर परेशानी के मद्देनजर अवैध एंबुलेंस और गाड़ियों को कैंपस से हटाने का आदेश नियुक्त सुरक्षाकर्मियों को दिए गए थे।

प्रतीकात्मक चित्र

गंगा पाथ-वे से पीएमसीएच के जुड़ जाने के बाद आम लोग भी अशोक राजपथ की ओर जाने के लिए इस मार्ग का इस्तेमाल कर रहे हैं, उन्हें जमकर पिटाई हो रही है। पीएमसीएच के एंट्री गेट पर नियुक्त गार्ड रोगी देखकर या पीएमसीएच के चिकित्सकों और कर्मचारियों को देखकर इस मार्ग से अंदर जाने की अनुमति दे रहे हैं। जो लोग गार्ड से जिद्द कर पीएमसीएच से गुजरते हुए अशोक राजपथ या महेंद्रु की ओर जाना चाहते हैं, उन पर लाठी भी बरसाए जा रही है। मंगलवार को और सोमवार को ऐसे मामले आने पर पीएमसीएच के गार्डों ने पिटाई की है।