Connect with us

BIHAR

मुजफ्फरपुर रेलवे स्टेशन बनेगा हाईटेक, यात्री सुविधा में होने जा रहा है विस्तार, जाने किन सुविधाओं का होगा विस्तार

Published

on

आगामी समय में मुजफ्फरपुर जंक्शन से सफर करने वाले यात्रियों की सुविधाओं में इजाफा होगा। यहां दो नए प्लेटफार्म का निर्माण किया जाना है। बता दें कि प्लेटफार्म नंबर चार और पांच के बगल में नया प्लेटफार्म बनेगा। मुजफ्फरपुर जंक्शन के स्टेशन डायरेक्टर मनोज कुमार की कोशिशों का नतीजा है कि सोनपुर रेल मंडल और पूर्व मध्य रेल ने प्रस्ताव पर मुहर लगा दी है। रेलवे का रूपरेखा विभाग ढांचा बना रहा है। मालूम हो कि मुजफ्फरपुर जंक्शन को विश्वस्तरीय बनाने की तैयारी हो रही है।

पहले जंक्शन की समाडी डिपो और वाशिंग पिट को नारायणपुर अनंत रेलवे स्टेशन इलाके में शिफ्ट करने का प्रस्ताव था।‌ इसी बीच साल में भारत वैगन की 15.59 एकड़ भूमि साल 2018 में रेलवे को मिल गई। फिर नारायणपुर अनंत रेलवे स्टेशन की ओर समाडी डोपो और वाशिंग पिट तैयार करने का प्रस्ताव रद्द कर दिया गया।

प्रतीकात्मक चित्र

योजना बनाया गया कि चार और पांच नंबर प्लेटफार्म के आगे वाशिंग पिट की दोनों रेल लाइन पर सात नंबर और छह नंबर वाले नए प्लेटफार्म निर्माण की बात हुई। स्टेशन डायरेक्टर ने कंट्रक्शन विभाग के अफसरों और इंजीनियरों के साथ बातचीत कर इस की योजना बनाई। छह और सात नंबर प्लेटफार्म के निर्माण हो जाने से मुजफ्फरपुर जंक्शन पर टोटल प्लेटफार्म की संख्या 10 हो जाएगी।

प्लेटफार्म की संख्या 10 हो जाने से यहां ट्रेनों की बंचिंग हो जाने से मुक्ति मिल जाएगी। रेल अधिकारी कहते हैं कि कम से कम 20 साल तक यह समस्या से मुक्ति मिलेगी। रूट के अनुसार प्लेटफार्म निर्धारित हो जाएंगे। इससे यात्रियों को भी परेशानी नहीं होगी। नीलमणि (मंडल रेल प्रबंधक, पूर्व-मध्य रेल सोनपुर) ने कहा कि मुजफ्फरपुर जंक्शन को रेल लैंड डेवलपमेंट अथॉरिटी के द्वारा विश्वस्तरीय बनाने की तैयारी दौ माह के अंदर शुरू हो जाएगी।‌ बटलर की ओर ‌समाडी डिपो और वाशिंग पिट स्थांतरित करने का प्रस्ताव उचित है। इससे दो नए प्लेटफार्म निर्माण को हरी झंडी मिल जाएगी।