Connect with us

BIHAR

बिहार के इस जिले में अडानी समूह करेगा बड़ा निवेश! कंपनी के टीम ने भ्रमण कर लिया जायजा

Published

on

हाल के दिनों में बिहार में उद्योग के क्षेत्र में बड़ी कंपनियां निवेश के लिए आगे आ रही है। अब देश की बड़ी अडानी विल्मर कंपनी प्रदेश के मुजफ्फरपुर जिले में निवेश करने के लिए आगे आई है। कंपनी टीम सोमवार के दिन बेला औद्दोगिक क्षेत्र एवं मोतीपुर फूड पार्क का जायजा लिया। टीम का पूरा ध्यान यहां उपलब्ध सुविधाओं पर था। कयास लगाए जा रहे हैं कि कंपनी यहां खाद्य तेल का प्लांट खोल सकती है। जायजा लेने के लिए कंपनी की तीन सदस्य टीम आई थी जिन्हें बिहार औद्योगिक क्षेत्र विकास प्राधिकरण के अधिकारियों ने तमाम जानकारियां दी।

बता दें कि दोनों स्थानों पर आसपास के बाजार, भूजल लेवल, बिजली की उपलब्धता, राष्ट्रीय राजमार्ग, स्टेट हाईवे एवं रेलवे माल गोदाम आदि इंफ्रास्ट्रक्चर के संदर्भ में अधिकारियों ने कंपनी के सदस्यों को जानकारी दी। बाढ़ और जलजमाव के विषय में भी टीम ने जानकारी प्राप्त की। बियाड़ा के अधिकारियों के बताए गए तमाम जानकारी पर अडानी समूह के अधिकारियों में संतोष दिखा।

सबसे पहले मुजफ्फरपुर के बेला औद्दोगिक क्षेत्र के आईडीपीएल परिसर में कंपनी की टीम पहुंची। उन्होंने कहा कि यहां प्लांट खोलने के लिए 40 एकड़ जमीन की जरूरत होगी। फिर कंपनी की टीम मोतीपुर के लिए निकलीं। बियाडा के अधिकारियों ने बताया कि 143 एकड़ जमीन में मेगा फूड पार्क का निर्माण किया जाना है।‌‌ यहां हल्दीराम और आईटीसी जैसी कंपनी ने रुचि के लिए दिलचस्पी दिखाई है। बगल में नेपाल और उत्तर प्रदेश सीमा सटे होने की वजह से निवेश करने में कंपनियों की रूचि है।

कंपनियों की इंजीनियरों की टीम बहुत जल्द दौरा करेगी। इसके बाद बियाडा को डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाकर दिया जा सकता है। अडानी विल्मर कंपनी की पहली यूनिट बिहार में स्थापित होगी। प्लांट खुल जाता है तो प्रत्यक्ष तौर पर 2000 लोगों को रोजगार मिलेगा और अप्रत्यक्ष तौर पर भी रोजगार उपलब्ध होने की उम्मीद है। बता दें कि मोदी सरकार के अंतर मंत्रालय अनुमोदन समिति ने मेगा फूडपार्क निर्माण के लिए मार्च महीने में ही मंजूरी दी थी। बियाडा के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कंपनी को जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर उपलब्ध कराया जाएगा।