Connect with us

BIHAR

पटना वासियों को वाटर स्पोर्ट्स सेंटर की सौगात, जेपी गंगा पथ के मुहाने होगा निर्माण, बोटिंग का लुफ्त उठाएंगे पर्यटक।

Published

on

पटना में इन दिनों पर्यटन पर काफी तेजी से काम हो रहा है। अब जेपी गंगा पथ के मुहाने पर राजधानी का पहला वाटर स्पोर्ट्स सेंटर बनने जा रहा है। इसके लिए सरकारी अधिकारियों ने चर्चा शुरू कर दिया है। जिला अधिकारी डॉ चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि लोकनारायण पथ के मुहाने के काफी संख्या में जनार्दन घाट पर लोगों की भीड़ इकट्ठा हो रही है। गंगा तट पर शाम का समय बेहद आनंददायक है। शहर के लोगों की भारी संख्या में आने वाली भीड़ के मद्देनजर जल्द ही पर्यटन विभाग को वाटर स्पोर्ट्स निर्माण का प्रस्ताव सौंपा जाएगा।

बता दें कि वॉटर एडवेंचर स्पोर्ट्स सेंटर के तौर पर विकसित हो जाने के बाद जिला का शहर वासियों को क्याक, जेट स्की स्कूटर, टायराइड और मोटर बोट एक्टिविटी का आनंद मिलेगा। इसके साथ ही आगामी दिनों में पैरासेलिनग बोट का लुफ्त यहां आने वाले सैलानियों उठाएंगे। अधिकारियों की मानें तो पैरासेलिंग एडवेंचर एक्टिविटी में तेज रफ्तार में चलती नाव से बंधा पैराशूट के सहयोग से आदमी हवा में उड़ता है। नाव के पीछे से एक व्यक्ति को खींचा जाता है। दूसरे छोर की स्पीड बोट में नाव बांधा जाता है। नाव दौड़ने लगती है तब व्यक्ति पानी में ही रस्सी को पकड़ने के बाद नियंत्रण बनाने की प्रयास करता है।

जेपी गंगा पथ को सभ्यता गेट से जोड़ने की योजना है। वाहनों की पार्किंग हेतु एएन सिन्हा संस्थान से सभ्यता गेट के बीच मल्टी लेवल पार्किंग निर्माण का फैसला लिया गया है। गाड़ी पार्क करने के बाद लोग सभ्यता गेट को देखने पैदल निकल जाएंगे। जेपी गंगा पथ के निर्माण के समय इसके आसपास के इलाके में चार तालाबों का निर्माण किया गया है। इन तालाबों को पर्यटन के लिहाज से डिवेलप करने के लिए एक्सपर्टों से बिहार राज्य पथ विकास निगम ने सलाह मांगी है। अभियंताओं ने कहा कि हमने तालाब का निर्माण नहीं किया है। सड़क बनाने के दौरान तालाब खुद ब खुद विकसित हो गया है। इस को सुंदर बनाने के लिए विभागीय स्तर पर चर्चा शुरू हो गया है।