Connect with us

BIHAR

बिहार का शुगर फ्री आम बना चर्चा का केंद्र, पकने तक बदलता है 16 बार रंग, हो रही है भारी डिमांड

Published

on

यूं तो फलों का बादशाह आम है, लेकिन बिहार का दुर्लभ प्रजाति का शुगर फ्री आम cr इन दिनों सुर्खियां बटोर रहा है। एक से बढ़कर एक किस्म के आम का मजा देश के लोग ले रहे हैं लेकिन बिहार का शुगर फ्री आम लाइमलाइट में हैं। किसान भूषण सिंह बिहार के मुजफ्फरपुर के मुसहरी निवासी हैं। भूषण सिंह के बगीचे में लगाए गए पौधों से जब फल निकलने शुरू हुए तब लोगों की नजरें इसी पर टिक गई। आम का कलर और साइज इतना अलग है कि रास्ते से जाने वाला हर कोई एक बार रुककर जरूर देखता है। किसान का कहना है कि इस शुगर फ्री आम का नाम अमेरिकन ब्यूटी है।

बता दें कि भूषण सिंह ने पश्चिम बंगाल से यह पौधा लाया था और अपने बगीचे में लगाए थे। तकरीबन छह साल के बाद पेड़ से फल आने शुरू हो गए। बीते दो सालों से फल आ रहा है। किसान ने जानकारी दी कि सामान्य किस्म की आम की तरह इसका मंजर और दाना निकलता है लेकिन पकने तक यह 16 दफा अपना कलर बदलता है। आम पक जाने के बाद आधा किलो का हो जाता है। समान रूप से यह 400 ग्राम का रहता है।

दरअसल, आम का साइज और रंग डिफरेंट है। अगले माह यानी कि जुलाई में यह आम पूरी तरह पककर खाने लायक हो जाएगा। हिसाब से मिठास के बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया कि मिठास तो कम है, चुकी यह शुगर फ्री आम है। उन्होंने बताया कि समस्तीपुर कृषि विश्वविद्यालय और कृषि अनुसंधान केंद्र मुजफ्फरपुर के विशेषज्ञों ने आम का टेस्ट लिया है। आम के नए पौधों की मानग लोग कर रहे हैं। किसान ने बताया कि नया पौधा बनाने के लिए काम जारी है।