Connect with us

BIHAR

अंबा में सड़क जाम से मिलेगी मुक्ति, 66 करोड़ खर्च कर बनेगा 11.66 किमी लंबा बाईपास

Published

on

अंबा में मेन चौक पर लगने वाली सड़क जाम से मुक्ति दिलाने के लिए बहुप्रतीक्षित बाईपास निर्माण को मंजूरी मिल गई है। इलाके के सांसद सुशील कुमार सिंह के कोशिशों का नतीजा है कि कार्यपालक इंजीनियर औरंगाबाद के प्रतिवेदन के संबंध में पथ निर्माण विभाग के मुख्य इंजीनियर, दक्षिण द्वारा तकनीकी अनुमोदन प्रदान करते हुए प्रशासनिक मंजूरी के लिए पथ निर्माण विभाग के इंजीनियर प्रमुख को सौंपा गया है।

विवाह के कन्या इंजीनियर सतीश कुमार बताते हैं कि यह सड़क सिमरा मोड़ से शुरू होते हुए नेउरा के रास्ते खैरा माइनर के साइड से दधपा व सोनबरसा होते हुए पिपरा मोड़ तक बनेगी। यह सड़क कुल 7 मीटर चौड़ा होगा। नहर के तटबंध होकर जाने से रोड निर्माण के लिए भूमि अधिग्रहण नहीं होगा। भूमि अधिग्रहण की जरूरत झरहा में है। प्रशासनिक मंजूरी 15 से 20 दिनों के भीतर मिलने की उम्मीद है। प्रशासनिक मंजूरी मिलते ही योजना को तकनीकी मंजूरी के लिए सौंपा जाएगा। इसके बाद पूरा ढांचा तैयार होगा।

बता दें कि अंबा बाजार में अमूमन सड़क जाम के चलते भीषण समस्या पैदा हो जाती है। जिसके चलते घंटों का समय केवल आधा किलोमीटर की दूरी तय करने में लग जाता है। सांसद सुशील कुमार जाम की समस्या से मुक्ति दिलाने हेतु लंबे समय से कोशिश कर रहे थे।‌ मेहनत रंग लाई। बाईपास निर्माण हेतु पहले जो डीपीआर बना था उसमें कई बाधाएं आ रहीं थी।

उसमें संशोधन होने के बाद बाईपास निर्माण के लिए ढांचा तैयार किया गया है, और उसे तकनीकी अनुमोदन मिल गई है। इस संदर्भ में पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक इंजीनियर इंद्रजीत कुमार आर्य बताते हैं कि बाईपास निर्माण हेतु प्राक्कलन बनाए पर मुख्य इंजीनियर का तकनीकी अनुमोदन मिल गया है। प्रशासनिक मंजूरी मिलते ही फाइनल तकनीकी मंजूरी के लिए भेजा जाना है।