Connect with us

BIHAR

बिहार के हर जिले में बनेगा ट्रैफिक पार्क, राजधानी पटना में हो गई इसकी शुरुआत, जाने क्यों खास होगा यह पार्क

Published

on

बिहार में सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के लिए नई योजना परिवहन विभाग ने बनाई है। इसके तहत राज्य के हर जिले में स्थाई रूप से एक-एक ट्रैफिक पार्क बनाने की तैयारी राजधानी पटना के वीर कुंवर सिंह पार्क से शुरू हो चुकी है। इस संबंध में परिवहन विभाग के द्वारा नियमावली बना दिया गया है।

पटना के 4900 वर्ग फीट वाले वीर कुंवर सिंह पार्क में अगस्त महीने से एजेंसी के जरिए पार्क निर्माण का काम शुरू कर दिया जाएगा। साथ ही दूसरे जिलो में काम धीरे-धीरे शुरू होगा। यह राज्य का पहला स्थाई ट्रेफिक पार्क होगा। फिलहाल पटना और गया में अस्थाई ट्रेफिक पार्क चल रहा है, जहां सबसे ज्यादा कॉलेज और स्कूल के छात्र पहुंचते हैं।

प्रतीकात्मक चित्र

ट्रैफिक पार्क में युवाओं ने बच्चों को ट्रैफिक नियमों के बारे में बताया जाएगा। इसके लिए ट्रैफिक पार्क में सड़क, डमी बिल्डिंग, छोटा फुट ओवर ब्रिज, साउंड सिस्टम, प्रोजेक्टर सभी की व्यवस्था रहेगी। वहीं, ट्रैफिक पार्क में रोड के साथ ही ट्रैफिक सिग्नल, यू-टर्न, जेब्रा क्राॅसिंग जैसे छोटे फुट ओवरब्रिज, साइनेज का निर्माण, बस स्टाॅप, स्कूल का डमी निर्माण, लाइटिंग व लैंप पोस्ट की व्यवस्था, अलग-अलग एंट्री और एग्जिट द्वार एवं प्रोजेक्टर के साथ ही रोड सेफ्टी क्लास रूम इत्यादि की सुविधा होगी।

परिवहन विभाग की नियमावली के अनुसार चयनित एजेंसी को 10 वर्ष के लिए ट्रैफिक पार्क का जिम्मा सौंपा जाएगा। परिवहन विभाग के द्वारा राशि और जमीन उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिए पूरी योजना का एजेंसी से बजट मांगा गया है। एजेंसी को सामग्री, उपकरण और मजदूर से लेकर मानव शक्ति का व्यवस्था करना है। प्रपोजल कॉन्फ्रेंस 21 जून को रखी गई है जबकि आखिरी तारीख प्रस्ताव देने की 6 जुलाई है। स्कूली बच्चे ट्रैफिक पार्क में मनोरंजक ढंग से ट्रैफिक नियमों के बारे में जानकारी हासिल कर सकेंगे। इसके माध्यम से सड़क सुरक्षा के प्रति लोगों को सचेत किया जाएगा।