Connect with us

BIHAR

समस्तीपुर रेल मंडल में इन 28 स्टेशनों पर खुलेगा यात्री टिकट सुविधा केंद्र, रेल यात्रियों को होगी सुविधा।

Published

on

समस्तीपुर से रेलवे से सफर करने वाले यात्रियों के लिए गुड न्यूज़ है। रिजर्व टिकट के लिए रेलवे स्टेशन के पीआरएस काउंटर पर लंबी कतार में खड़ा होने की आवश्यकता नहीं होगी। यात्रियों की सुविधा के मद्देनजर अपनी सुविधा के मुताबिक के रिजर्व टिकट यात्री रेलवे स्टेशन के बाहर भी बनवा सकते हैं। रेलवे स्टेशन यह बाहर सामान टिकट और आरक्षित टिकट बेचने के लिए निजी व्यक्तियों का चयन होना है। समस्तीपुर रेल डिवीजन के स्टेशन के बाहर ही पैसेंजर्स को अनारक्षित और आरक्षित टिकट बुक कराने की सुविधा उपलब्ध होगी।

बता दें कि पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप यानी पीपीपी मॉडल के तर्ज पर टिकट सुविधा केंद्र खोलने पर काम चल रहा है। इस सुविधा का लाभ उठाने वाले यात्रियों को जेब थोड़ी ज्यादा ढीली करनी पड़ेगी। अपना खर्च कम करने के लिए रेलवे ने रिजर्व केंद्रों को भी प्राइवेट हाथों में देने का फैसला लिया है। समस्तीपुर रेल डिवीजन के 28 स्टेशनों के कंप्यूटरीकृत यात्री आरक्षण प्रणाली व अनारक्षित टिकट प्रणाली स्टेशन कैंपस के बाहर संस्थापक एवं संचालन की कवायद शुरू की गई है। इस बाबत वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक ने नोटिस जारी कर दिया है।

प्रतीकात्मक चित्र

यात्री टिकट सुविधा केंद्र खोलने के लिए समस्तीपुर रेल डिवीजन ने ऑनलाइन आवेदन मांगा है। सक्षम कैंडिडेट से कंप्यूटरीकृत रिजर्व सिस्टम सह आरक्षित टिकट केंद्र की स्थापना के लिए तीन सालों के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किया है। 3 सालों के लिए लाइसेंस के प्रारंभिक इस समय सीमा तय की गई है। अवधि समाप्त होने के बाद सक्षम अधिकारी के द्वारा संतोषजनक काम के बाद ही आगे की समय सीमा में बढ़ोतरी की जाएगी। जिसमें आरटीए, जेटीबीएस, आईआरसीटीसी और आरटीएसए के द्वारा प्रतिनियुक्त एजेंट शामिल है।

रिजर्वेशन का टाइम सुबह के 8.15 से रात के दस बजे तक एवं रविवार को सुबह 8.15 बजे से रात्रि के आठ बजे तक होगा। इन टिकट केंद्रों से किसी भी प्रकार के रियायती टिकट का बुकिंग नहीं होगा और न ही ग्रुप वाली बुकिग होगी। अनारक्षित वर्ग के टिकट रिफंड नहीं किए जाएंगे।

समस्तीपुर डिवीजन के स्टेशन कैंपस से बाहर यात्री टिकट सुविधा केंद्र समस्तीपुर डिवीजन के 28 स्टेशन के बाहर संचालन हेतु तय की गई है। इसमें समस्तीपुर, हसनपुर रोड, रुसेड़ाघाट, दरभंगा, रक्सौल, सहरसा, बापूधाम मोतिहारी, सीतामढ़ी, जयनगर, बेतिया, नरकटियागंज, मधुबनी, जनकपुर रोड, सुपौल, दौरम मधेपुरा, सिमरी बख्तियारपुर, झंझारपुर, बगहा, चकिया, सगौली, बैरगनिया, बनमंखी, लहेरियासराय, हरिनगर, सकरी, मोतीपुर, पूर्णिया कोर्ट एवं मुरलीगंज स्टेशन शामिल है।

समस्तीपुर रेलवे डिविजन के डीआरएम आलोक अग्रवाल का कहना है कि समस्तीपुर डिविजन के 28 जगहों पर टिकट सुविधा केंद्र के संचालन हेतु निर्धारित की गई है। अनारक्षित टिकट केंद्र के संचालन का स्थापना के लिए 3 सालों के लिए आवेदन निकाला गया है। पहले भी रेल मंडल ने स्टेशन से बाहरी इलाके में टिकट काउंटर खोलने की परमिशन दी थी। इसके तहत डिवीजन के सिलेक्टेड स्टेशनों के बाहर ही केवल सामान्य श्रेणी के टिकट के लिए सुविधा केंद्र खोला गया था। उन्होंने बताया कि सुविधा केंद्र खोलने के लिए रेलवे की वेबसाइट पर पूरी जानकारी दी गई है।