Connect with us

BIHAR

पटना एम्स और पीएमसीएच के बीच के घंटों की दूरी सिर्फ 20 मिनट में होगी तय, जाने क्या होगा नया रूट

Published

on

बिहार में बीते कुछ सालों से पाथ निर्माण कार्य में बेहद तेजी नजर आई है। मौजूदा सरकार के प्रभुत्व में आने के उपरांत ग्रामीण सड़को को ठीक करवाया गया था। उसके उपरांत लिंक रोड को भी नजर के रखते हुए काफी ध्‍यान दिया गया था। अब गवर्नमेंट का संपूर्ण ध्‍यान अधिक लागत वाली बड़ी सड़को के प्रोजेक्ट्स पर है। इसके अंतर्गत एक्‍सप्रेसवे को बनवाने के कार्य को हरी झंडी देने के सहित ही राजधानी पटना को रोडवे से कनेक्ट करने का प्रयास तेज कर दिया गया हैं।

नगर को बाहरी और भीतरी दोनों प्रकार से रोडवे से कनेक्ट करने का निरंतर प्रयास किया जा रहा है। इसी कोशिश का परिणाम लोकनायक गंगा सड़क है। उसको बनवाने से पटना मेडिकल कॉलेज और हॉस्पिटल से पटना AIIMS जाने में बेहद सहूलियत हो जाएगा। पीएमसीएच PMCH से पटना एम्‍स की डिस्टेंस 20 किमी है। भारी जाम से होकर गुजरना पड़ता है। अभी तक इसकी अवकाश को तय करने में 90 से 120 मिनट का समय लग जाता हैं। गंगा पथ के आवागमन के हेतु खुलने के उपरांत यह दूरी सिर्फ 20 मिनट में ही तय की जा सकेगी।

प्रतीकात्मक चित्र

पटना का मरीन ड्राइव मतलब की लोकनायक गंगा पथ पेसेंट के हेतु काफी मददगार होगा। उसके बन जाने के उपरांत पटना एम्स से PMCH की दूरी सिमट जाएगी। PMCH से पटना एम्स जाने में अभी डेढ़ से 2 घंटे लगते हैं। इन दोनों हॉस्पिटल के मध्य की दूरी तकरीबन 20 किमी है। लोकनायक गंगा सड़क का शुभारंभ होते ही 20 किमी की दूरी को सिर्फ 20 मिनट में तय किया जा सकेगा। AIIMS से दीघा एलिवेटेड सड़क एवं गंगा पथ होते हुए केवल 20 मिनट में पेसेंट PMCH पहुंच जाएंगे। PMCH से पटना AIIMS की दूरी भी इतने ही वक्त पहुंचा जा सकेगा। आपको बता दें कि दीघा से PMCH तक लोकनायक गंगा पथ का 8 किमी का लेन निर्माण हो चुका है और इसे शहर से जोड़ भी दिया गया है।

इस मार्ग से नगर में प्रवेश करने के हेतु 4 मार्ग बनवाए हैं। उसके सहित ही अटल पथ का भाग भी उसमे कनेक्ट कर दिया गया है। दीघा पुल से डायरेक्ट इन दोनों हाइवे पर जाने वाला मार्ग को भी तैयार करवा लिया गया है। इन जरूरी प्रोजेक्ट्स के शुभारंभ की प्रतीक्षा है। गंगा पथ को केवल अटल पथ से ही नहीं कनेक्ट किया गया है, बल्कि उसको दीघा एलिवेटेड पथ से कनेक्ट किए जाने के वजह से PMCH एवं पटना AIIMS की दूरी भी कम हो गई है। इन दोनों मार्ग के कनेक्ट हो जाने से पेसेंट को पटना AIIMS से PMCH या फिर PMCH से पटना AIIMS में शिफ्ट करने में केवल 20 मिनट लगेंगे।

फिलहाल पटना AIIMS से PMCH पहुंचने के हेतु फुलवारी शरीफ, अनीसाबाद के रास्ते होते हुए अशोक राजपथ आना होता है एवं उसके उपरांत PMCH पहुंचते हैं। शहर के अंदर से होकर आने में तकरीबन 1:30 से 2 घंटे का समय लगता हैं। कभी-कभी इमरजेंसी पेसेंट को बेड नहीं मिलने की परिस्थिति में एक से दूसरे हॉस्पिटल में शिफ्ट करवाया जाता है, ताकि शीघ्र से शीघ्र उनकी जान बचाई जा सके। ऐसे में फ्यूचर में गंगा पथ उन पेसेंट के हेतु वरदान साबित हो सकता है।