Connect with us

BIHAR

बिहार 7वें चरण में खाली पदों पर होगी बंपर बहाली, जाने लगभग कितने रिक्तियों पर बहाली की है संभावना

Published

on

बिहार में सातवें चरण की प्रारंभिक शिक्षकों की बहाली की तैयारी शुरू हो गई है। शिक्षा विभाग ने सभी जिलों से शिक्षक के खाली पदों की सूची मांग ली है। सातवें चरण में उन पदों को भी शामिल किया गया है जो छठे चरण में नियुक्ति के दौरान रिक्त रह गए हैं।

अब रोस्टर क्लीयरेंस के आधार पर समीक्षा के लिए राज्य सरकार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने रविवार के दिन बैठक बुलाई है। आयोजित बैठक में विभाग के अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार सिंह, सभी जिले के शिक्षा अधिकारी, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी और प्राथमिक शिक्षा निदेशक रवि प्रकाश मौजूद रहेंगे।

प्रतीकात्मक चित्र

शिक्षा विभाग की मानें, तो सातवें चरण के शिक्षक बहाली करने से पूर्व नियोजन की प्रक्रिया मौजूदा समय में ही पूरा कर ली गई है, 30 जून तक खाली पदों की गणना 31 मई की स्थिति के तहत स्कूलवाइज और नियोजन इकाई वार करने का आदेश दिया गया था। सभी जिलों से खाली पदों की रिपोर्ट आ गई है, किंतु रोस्टर क्लियरेंस के आधार पर सभी खाली पदों की समीक्षा होगी। इसके बाद ही प्रारंभिक शिक्षकों के रिक्तियों के बारे में बताया जाएगा।

बताया जा रहा है कि प्रारंभिक शिक्षकों के लगभग 82,000 पदों सकते हैं। मालूम हो कि छठे चरण के शिक्षक नियोजन के तहत बड़ी तादाद में शिक्षकों को नियुक्ति पत्र सरकार सौंप चुकी है। इसके बाद ही सातवें चरण की प्रारंभिक शिक्षकों की बहाली के लिए कैंडिडेट्स इंतजार कर रहे थे। जिले से शिक्षा के खाली पदों के लिए शिक्षा विभाग ने मंगवा ली है। रविवार को शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने बैठक बुलाया है। बैठक में शिक्षा विभाग के बड़े अफसर मौजूद रहेंगे। अनुमान के अनुसार शिक्षकों के 82000 रिक्त पदों पर बहाली होनी है।