Connect with us

BIHAR

राजगीर में 16 करोड़ खर्च कर इंटीग्रेटेड भवन का हो रहा है निर्माण, सैलानियों को एक साथ मिलेगी कई सुविधाएं

Published

on

बिहार का सबसे बड़ा पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाने वाला राजगीर दिन प्रतिदिन नई चमक प्राप्त कर रहा है। अब राजगीर के विश्व शांति स्तूप एवं रोप-वे के नजदीक सैलानियों के लिए और भी बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। यहां आने वाले देसी और विदेशी सैलानियों के लिए इंटीग्रेटेड भवन का निर्माण इन दिनों चल रहा है।

बता दें कि राजगीर में दोनों रोप-वे के बेस स्टेशन के नजदीक इंटीग्रेटेड भवन का निर्माण किया जा रहा है। सैलानियों के लिए निर्माण किए जा रहे इंटीग्रेटेड भवन में एक ही जगह पर शॉपिंग से लेकर खाने-पीने तक की तमाम सुविधाएं होगी। इंटीग्रेटेड भवन में सैलानियों के लिए रेस्टोरेंट, फूड कोर्ट, दुकानें जैसी सुविधा रहेंगी। इसके साथ ही महिला और पुरुष के लिए शौचालय, लिफ्ट, रैंप व पार्किंग की सुविधा रहेगी।

पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव संतोष कुमार मल्ल कहते हैं कि नालंदा जिला का विश्व शांति स्तूप महत्वपूर्ण अंतरराष्ट्रीय टूरिस्ट पैलेस है। राज्य सरकार के द्वारा शांति स्तूप के नजदीक कई पर्यटकीय संरचनाओं का निर्माण पिछले सालों में किया गया है। पर्यटन विभाग की ओर से यहां आने वाले सैलानियों को सुधार के लिए नई रोपवे का अधिष्ठापन किया गया। जिसमें टोटल 20 करोड़ 18 लाख खर्च हुए हैं।

बता दें कि यहां आने वाले पर्यटकों को सुविधा के मद्देनजर विश्व शांति स्तूप पर रज्जू मार्ग एवं उसके नजदीक सौंदर्यीकरण और पर्यटन सुविधाओं के बनाने हेतु नई योजना को स्वीकृत किया गया है जिसमें 16 करोड़ 38 लाख की राशि आवंटित होनी है। विभाग के इस योजना को जमीनी रूप से बिहार सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के द्वारा जिला प्रमण्डल पदाधिकारी के सहयोग से किया जाएगा। पर्यटन विभाग के द्वारा जरूरी राशि जिला वन प्रमण्डल पदाधिकारी को विमुक्त करने की मंजूरी दी जा चुकी है।