Connect with us

BIHAR

भागलपुर का जगतपुर झील पर्यटन स्थल के रूप के होगा विकसित, यहाँ विदेशी पक्षियों का रहता है जमावड़ा

Published

on

पर्यटन स्थल के रूप में भागलपुर के जगतपुर झील को विकसित किया जाएगा। बुधवार को यह बातें जिले के डीएम सुब्रत कुमार सेन ने जगतपुर झील का मुआयना करने के बाद का कहा‌। डीएम ने कहा कि अभी यहां मनरेगा के तहत काम चल रहा है। पानी की झील की सफाई कराई जाएगी जिसके लिए जल के स्रोत को जाग्रत किया जाएगा। फिर अलग-अलग पोखरों के चारो ओर पौधारोपण करवाया जाएगा। झील में बोटिंग और दूसरे सुविधाएं भी बहाल की जाएगी।

जिले के डीएम ने कहा कि यह एक महत्वपूर्ण परियोजना है, जिसे जल्द ही पूरा करवाया जाएगा। अंचल अधिकारी के द्वारा जगतपुर झील की भूमि का सर्वे कराया गया था, जिससे मालूम हुआ है कि झील और उसके नजदीक की 4 एकड़ भूमि सरकार की है। झील के सौंदर्यीकरण हेतु पर्याप्त मात्रा में जमीन है। आसपास के मालिकों को मनरेगा से पोखर बनाने का प्रस्ताव भी दिया जा रहा है। कई जमीन मालिक इसके लिए तैयार हैं। तीन से चार दिन में झील में पोखरों के जोर्णीदार का कार्य शुरू हो जाएगा।

जगतपुर झील की मौजूदा हालात वैसे भी नहीं है, जिसे झील के रूप में लोग देख सके। अभी इसमें काफी कार्य होना शेष है। लेकिन वर्ष के तीन-चार महीने यहां प्रवासी पक्षियों का जमावड़ा रहता है। रुस व दूसरे देशों से जगतपुर में पक्षियों का आना जाना लगा रहता है। ठंड के दिनों में विभिन्न तरह की दुर्लभ किस्म की पक्षियों को यहां देखा जाता है। पक्षियों को देखने के लिए लोगों का भारी भीड़ जुटता है और तस्वीर भी क्लिक करते हैं।