Connect with us

BIHAR

पटना में गांधी मैदान के पास बदलेगी ट्रैफिक व्‍यवस्‍था, दीघा से PMCH के बीच इस दिन से शुरू होगा गंगा पथ।

Published

on

पटना की सबसे बिजी, महत्वपूर्ण और पुरानी सराय अशोक राजपथ का नया ऑप्शन 11 जून के बाद लोगों को मिलने वाला है। गंगा पथ को दीघा से पीएमसीएच तक ट्रैफिक के लिए खोला जाएगा। बताने की गंगा पथ का विस्तार पटना स्थित किया जाना है, जिस पर काम चल रहा है। दीघा से पीएमसीएच तक गंगा पथ को खोलने के अलावे दीघा, गांधी मैदान, पीएमसीएच और गोलघर के पास ट्रैफिक व्यवस्था में बड़ा तब्दीली किया जा रहा है। अगर आपको इस बारे में पता रहेगा, तो परेशान नहीं होगी।

गोलघर तिराहे को डेवलप कर गाड़ियों को यू-टर्न लेने के लिए बनाया जाएगा। गंगा पथ के उद्घाटन से पहले ही पथ विकास निगम के द्वारा इस काम को पूरा किया जाएगा। 11 जून के बाद दीघा टू पीएमसीएच गंगा पथ का उद्घाटन किया जाना है। इससे पहले ट्रैफिक व्यवस्था में मामूली बदलाव होना है।

जेपी सेतु, दानापुर, एम्स एलिवेटेड रोड और अटल पथ से गंगा पथ को जोड़ा गया है। गंगा पथ से बिना रुकावट के लोग पीएमसीएच तक 11 जून के बाद आसानी से आवागमन कर सकेंगे। इससे पहले शहर के ट्रैफिक व्यवस्था में थोड़ा सा बदलाव होगा। गंगा पथ के उद्घाटन से पहले ट्रैफिक व्यवस्था में बदलाव हेतु जिले के डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह, पुलिस कप्तान मनप्रीत सिंह इंदौर और ट्रैफिक एसपी ने सड़क का मुआयना किया है।

कंकड़बाग, पटना जंक्शन, गांधी मैदान की तरफ से पीएमसीएच, दीघा, एम्स या अटल पथ, जेपी सेतु से उत्तर बिहार की ओर जाना है तो गोलघर के पास यू-टर्न लेकर गंगा पथ निकल सकते हैं। एनएन सिन्हा इंस्टीट्यूट के पास अशोक राजपथ पर प्रमंडल आयुक्त के कार्यालय, डीएम का गोपनीय दफ्तर के वज़ह से गोलघर तिराहे को यू-टर्न के लिए डेवलप करने की योजना है।

डीएम के गोपनीय दफ्तर, आयुक्त कार्यालय, बांकीपुर गल्र्स हाई स्कूल के गेट के ठीक सामने डिवाइडर बंद होगा। एएन सिन्हा इंस्टीच्यूट से गोलघर तक वन-वे ट्रैफिक रहेगा‌‌। दानापुर की तरफ प्रमंडल कार्यालय, डीएम के गोपनीय दफ्तर, गोलघर एवं लोदीपुर की तरह जाने के लिए चिल्ड्रेन पार्क से गाड़ियों को यू-टर्न लेना होगा।

बता दें कि 11 जून को गंगा पाथवे से पीएमसीएच जुड़ सकता है। इसके बाद गंगा पाथवे से पीएमसीएच तक पहुंचने वाले चिकित्सकों और रोगियों के साथ ही आम लोगों के आने-जाने से अस्पताल कैंपस में लगने वाले जाम और रोगियों को पेरेशानी होने की उम्मीद से अधिकारी बेचैन है। पीएम के अधिकारियों ने इस संबंध में पथ निर्माण सह स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव को अवगत कराया। उनकी समस्या के निदान का भरोसा अपर मुख्य सचिव ने दिया है।

अपर मुख्य सचिव को पीएमसीएच के प्राचार्य डा. विद्यापति चौधरी एवं अधीक्षक डा. आइएस ठाकुर ने जानकारी दी कि अशोक राजपथ पर एलिवेटेड सड़क निर्माण हो जाने से आम लोगों का डायरेक्ट पीएमसीएच उतरने के बाद अपने गंतव्य स्थान का रास्ता चुन सकते हैं। ऐसे में सुबह से शाम तक जाम का वातावरण बना रहेगा। इसे पीएमसीएच के कर्मियों और डॉक्टरों एवं मरीजों को परेशानी होना पड़ सकता है। इस तरह की व्यवस्था की जाए जिससे केवल एंबुलेंस और कर्मियों एवं डॉक्टरों का ही गाड़ी प्रवेश कर सकें।