Connect with us

BIHAR

स्मार्ट सिटी रैंकिंग में भागलपुर अव्वल, बेहतरीन काम के दम पर देशभर में 23वें पायदान पर, पटना की स्थिति बिगड़ी।

Published

on

विकास कार्यों के दम पर भागलपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने देश भर के 100 स्मार्ट शहरों की सूची में 23वां स्थान पर काबिज हुआ है। 13 अप्रैल को जारी हुई सूची में भागलपुर स्मार्ट सिटी 51वें नंबर पर था। जून में जारी हुई सूची में 28 अंकों का सुधार देखा गया है। बिहार शरीफ और राजधानी पटना अपनी रैंकिंग में सुधार नहीं कर सका है। 65वें नंबर से पटना 70वें नंबर और बिहार शरीफ 72वें नंबर से पिछड़कर 96वें नंबर पर चला गया। मुजफ्फरपुर ने थोड़ा सुधार किया जिसके बाद सूची में 80वें नंबर पर है। देश भर के 100 स्मार्ट सिटी शहरों की सूची में पहले नंबर पर सूरत और दूसरे नंबर पर इंदौर है।

बता दें कि स्मार्ट सिटी मिशन में प्रोजेक्ट को पूरा करने, आउटपुट, फाइनांस, फ्रेम वर्क और एडवाइजरी कमिटी की बैठक एवं कार्य पूरा करने के मानकों के आधार पर रैंकिंग जारी किया गया था। भागलपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के द्वारा तकरीबन 920 करोड़ रुपए से ज्यादा की परियोजनाओं के निविदा जारी किया गया था। अलग-अलग परियोजनाओं पर टोटल 206 करोड़ खर्च किए गए।

भागलपुर में सैंडिस कंपाउंड के सौंदर्यीकरण का काम अंतिम दौर में है। जल्द ही इसे हैंडओवर कर दिया जाएगा। कचहरी चौक के नजदीक रूफटॉप सोलर और सर्फस पार्किंग परियोजनाओं का काम पूरा हो गया है। मायागंज इलाके में 100 बेड वाले शेल्टर हाउस का निर्माण पूरा हो गया है। 3 महीने के अंदर इनडोर स्टेडियम और स्विमिंग पूल का काम पूरा हो जाएगा। टाउन हाल, हाइमास्ट लाइट, स्कूलों का आधुनिकीकरण, आरएफडी, भैरबा तालाब, स्मार्ट रोड, बरारी घाट सहित दूसरे योजनाओं का काम तेजी से चल रहा है। आने वाली रैंकिंग में सुधार हेतु टारगेट फिक्स कर पूरा करने का आदेश दिया गया है। स्मार्ट सिटी के तहत लगातार काम हो रहा है।