Connect with us

BIHAR

बिहार के इन 4 शहरों में नए रिंग रोड के निर्माण प्रस्ताव में बाईपास की संपर्कता मुख्य आधार, ये है पूरा प्लान

Published

on

बिहार सरकार ने राज्य के चार शहरों क्रमश: भागलपुर, मुजफ्फरपुर, गया और दरभंगा में रिंग रोड बनाने के लिए जो प्रस्ताव सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय को दिया है उहमें बाईपास से संपर्कता है। इन शहरों में यातायात व्यवस्था की सहजता के लिए जो बाईपास का निर्माण हुआ हैं, उससे शहर की कई इलाकों से संपर्क नहीं है। यह कहा जा रहा है कि अगर एक भाग में सड़क का निर्माण हो जाए तो रिंग रोड का निर्माण को पूरा करेगा। ऐसी उम्मीद है कि नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया इन चार शहरों में रिंग रोड बनाने के लिए विस्तार रूप से बना सकता है।

पथ निर्माण विभाग के द्वारा मुजफ्फरपुर में रिंग रोड बनाने के लिए नेशनल हाईवे-77 पर बना बाईपास (हाजीपुर-मुजफ्फरपुर) एवं एनएच 28 (मुजफ्फरपुर-बरौनी फोर लेन) पश्चिमी दिशा से इलाके के 50 फीसद हिस्से को कवर कर लेगा। शहर का पूर्वी इलाका किसी प्रकार के प्रस्ताव से एक अमल नहीं किया गया है। इसलिए सड़क का निर्माण होता है तो मुजफ्फरपुर शहर का रिंग रोड आकार ले लेगा।

दरभंगा में राष्ट्रीय राजमार्ग 57 उत्तरी दिशा पर स्थित बाइपास शहर को जोड़ता है पर दक्षिणी भाग को किसी प्रकार के प्रस्ताव से कवर नहीं हुआ है। दक्षिणी भाग के लिए प्रस्ताव तैयार कर रिंग रोड निर्माण सहज होगा। भागलपुर से होकर गुजरने वाली मुंगेर-मिर्जाचौकी (राष्ट्रीय राजमार्ग-80) सड़क दक्षिणी भाग से रिंग रोड के 50 फीसद हिस्से को कवर कर रही। उत्तरी भाग के लिए कोई प्रस्ताव नहीं बना है। उत्तरी भाग के लिए प्लान निर्माण से रिंग रोड अस्तित्व में आ सकेगा।