Connect with us

BIHAR

पटना में यहाँ बनेगा मल्टीपरपस कॉन्फ्रेंस हॉल, 7 करोड़ की आएगी लागत, होंगी ऐसी सुविधाएं

Published

on

पटना यूनिवर्सिटी के बीएन कॉलेज में एक मल्टी परपस कॉन्फ्रेंस हॉल का निर्माण होगा। इसके लिए शिक्षा विभाग से राशि आवंटित की गई है। लगभग 450 लौकी बैठने वाले भवन का निर्माण 7 करोड़ की राशि खर्च कर बिहार स्टेट एजुकेशनल इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन के द्वारा होगा। यह दो मंजिला होगा, जिसमें दो कॉन्फ्रेंस बनेगा। एक 300 कैपेसिटी का और दूसरा 150 कैपिसिटी का। इसके अलावा प्रशासनिक ब्लॉक भी बनाया जाएगा। भवन निर्माण के लिए डिजाइन का भी सिलेक्शन कर लिया गया है। विश्वविद्यालय के छात्र रहे और शिक्षा मंत्री, बिहार सरकार में रहे कृष नंदन वर्मा ने इसकी घोषणा की। इसकी आधारशिला उन्होंने ही रखी थी।

अगले महीने से भवन निर्माण का काम शुरू हो जाएगा। विश्वविद्यालय के इंजीनियरों के द्वारा शुक्रवार को जगह चयनित कर ली गई है। कॉलेज का निर्माण कॉलेज के पीछे आने गंगा के साइड में होना था लेकिन अब कॉलेज के पास पर्याप्त जमीन नहीं होने के चलते इग्नू के भवन में खाली जगह पर किया जाएगा। जिस जगह पर इग्नू का दफ्तर चलता है उसको ध्वस्त कर इस भवन का निर्माण किया जाएगा। पेड़ों को ट्रांसप्लांट करके दूसरी जगह शिफ्ट करने की योजना है।

बता दें कि बीएन कॉलेज के नजदीक कॉलेज के मेन हॉस्टल में पहले चरण में एक ब्लॉक का निर्माण पूरा हो गया है। अब दूसरे चरण में दूसरे वालों का काम शुरू किया जाना है। सरकार को उक्त कार्य के लिए 85 करोड़ का प्रस्ताव दिया गया है। छात्रावास के अधीक्षक प्रोफेशन डीएन शर्मा बताते हैं कि इसका निर्माण जल्द ही शुरू होगा। छात्रों को हॉस्टल के निर्माण से काफी फायदा मिला है। दूसरे ब्लाक के निर्माण पूर्ण हो जाने से हॉस्टल का पूरा कायाकल्प होगा जिससे मौजूदा समय में छात्रों को हो रही परेशानी खत्म हो जाएगी।

बीएन कॉलेज के प्रो राजकिशोर प्रसाद कहते हैं कि इग्नू वाले दफ्तर को तोड़कर मल्टीपरपस कॉन्फ्रेंस हॉल बनाने का काम अगले महीने से प्रारंभ हो जाएगा। निर्माण के लिए जगह चिन्हित कर ली गई है। इसके साथ जल्द ही कॉलेज के द्वारा एक वोकेशनल कोर्स के लिए भवन निर्माण का प्रस्ताव सरकार के पास भेजा जाएगा। पुराने इमारतों के जोर्णीदार हेतु विभाग को प्रस्ताव भेजने की तैयारी है। जल्दी हॉस्टल का निर्माण काम शुरू होगा।