Connect with us

BIHAR

कैमूर जिले में स्थित करकटगढ़ वॉटरफॉल इको-टूरिज्म के रूप में होगा विकसित, सीएम ने किया निरीक्षण

Published

on

बिहार के सीएम नीतीश कुमार शनिवार के दिन कैमूर पहुंचे। सीएम ने चैनपुर प्रखंड के करकटगढ़ जलप्रपात को देखा। मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से पहुंचे इसके बाद उन्होंने तकरीबन एक घंटे तक जलप्रपात का निरीक्षण किया। शैक्षणिक भ्रमण में बच्चों को करकटगढ़ जलप्रपात का भ्रमण कराया जाएगा जिसके बारे में वह जान सकेंगे।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने करकटगढ़ वाटरफॉल घूमने के बाद पत्रकारों से मुखातिब हुए। सीएम ने कहा कि यहां मैं पहले भी आ चुका हूं। यहां के बारे में जब जानकारी प्राप्त हुई तो देखने के बाद पता चला कि काफी उन्नति हुई है। इसका खूब शानदार तरीके से विकास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए इसका विकास करेंगे। इको टूरिज्म के मद्देनजर कई सारे बदलाव हमारे आने के बाद से हो रहा है।

सीएम ने कहा कि कोविड के चलते इस पर 2 वर्ष से कोई काम नहीं हुआ है। लेकिन फिर मन किया कि एक बार गया हुआ था इसलिए यहां दोबारा चला आया। मन हुआ कि जाकर देखें और तब पता चला कि यहां काफी विकास हुआ है। सीएम ने कहा कि एक वक्त आएगा जब यहां काफी तादाद में लोग भ्रमण के लिए आएंगे। काफी अच्छी जगह है और बेहद खास जगह पर है। इस प्रचंड गर्मी में यहां वाटरफॉल का दृश्य बढ़िया दिख रहा है।

मुख्यमंत्री नीतीश ने वाटरफॉल के आसपास की जगह को देखा उसके बाद कहा कि यहां चारों और बैठने और रुकने के लिए व अन्य सुविधाएं पर काम किया जाएगा। दूसरे जगह बच्चों का शैक्षणिक भ्रमण होता है तो पर्यटन के मद्देनजर इस का भी ध्यान रखा जाएगा। बच्चे यहां आएंगे और यहां के बारे में जानेंगे। सुविधा के हर कसौटी पर काम करवाया जा रहा है। सीएम के साथ मौके पर अल्पसंख्यक मामले के मंत्री जमा खान भी मौजूद थे।