Connect with us

BIHAR

बिहार में जमीन रजिस्ट्री नियम में बदलाव आसान हुई रजिस्ट्री, पटना सहित 102 रजिस्ट्री ऑफिस में लागू हुआ यह नियम, जानें

Published

on

बिहार में जमीन और फ्लैट की खरीदारी करने वाले लोगों के लिए गुड न्यूज़ है। बिहार की राज्य सरकार ने डीड मॉडल बना दिया है। आप रजिस्ट्री कार्यालय में सीधा जाकर आप रजिस्ट्री करवा सकते हैं। दलालों के चक्कर में पड़ने की कोई आवश्यकता नहीं है।

बिहार के निबंधन दफ्तरों में बिना कातिबों के मदद से कागजातों के रजिस्ट्री की कॉपी या नहीं होती है। उनके मदद से रजिस्ट्री करवाने पर लोगों को स्टांप शुल्क और रजिस्ट्री के अलावा भी राशि देना पड़ता है। किंतु, अब निबंधन विभाग ने मॉडल डीड के रजिस्ट्री की सुविधा उपलब्ध करा दी है जिससे दलालों से मुक्ति मिल जाएगी।

प्रतीकात्मक चित्र

रजिस्ट्री फीस जमा करने से पूरा को तमाम जानकारी आसानी से मिल जाएगी। सुझाव के साथ ही आपको सारी सुविधाएं मिलेंगी। आपको बिल्कुल फ्री में डीड का प्रिंटआउट मिलेगा। राज्य सरकार ने राजधानी पटना सहित 102 रजिस्ट्री कार्यालय में या सुविधा शुरू कर दी है। लोग इस नई सुविधा का लाभ उठा रहे हैं उन्हें का कातिब के यहां चक्कर लगाना नहीं पड़ रहा है।

निबंधन आयुक्त कार्तिकेय धनजी का कहना है कि हम मॉडल डीड की तरफ बढ़ रहे हैं। डीड अंग्रेजी, हिंदी और उर्दू में उपलब्ध है। पार्टनरशिप और सेल डीड व अन्य प्रकार के तमाम चीजों को डीड मॉडल बनाया है। पूरा दफ्तर इस पर आ जाएगा। उन्होंने बताया कि कातिलों पर ग्राहकों की निर्भरता कम करने के लिए इस तरह की व्यवस्था की जा रही है जिसका परिणाम सकारात्मक देखने को मिला है।

एनजीडीआरएस के जरिए ग्राहकों को इ-मेल/एसएमएस अलर्ट मिलेगा। ग्राहकों को शिकायत करने के अलावा ट्रैक करने की भी सुविधा प्रदान की जाएगी। भारत सरकार ने जो सॉफ्टवेयर डेवलप किया है जो कि मौजूदा समय में निबंधन विभाग के प्राइवेट कंपनी आइएलएफएस के द्वारा डेवलप सॉफ्टवेयर पर रजिस्ट्री हो रहा है।

ग्राहकों को ऑनलाइन रजिस्ट्री कराने के लिए खुद से http://nibandhan.bihar.gov.in/modeldeed_new.aspx मॉडल रजिस्ट्री फॉर्म को भरने के बाद अपलोड करना पड़ता है। विभाग की दूसरी वेबसाइट http://bhumijankari.bihar.gov.in/Admin/MVR/MVRParameter.aspx है। आपको किसी तरह की मदद चाहिए तो निबंधन विभाग के मे आई हेल्प यू काउंटर से भी संपर्क कर सकते हैं।