Connect with us

BIHAR

बिहार के इस जिले में शेडनेट में बेमौसम सब्जी की खेती करने वाले किसानों को सरकार देगी 75 फीसदी अनुदान

Published

on

बेमौसम फूल, विदेशी प्रभेद सब्जी उत्पादन को बढ़ावा देने के मकसद से सरकार की ओर से राष्ट्रीय कृषि योजना रफ्तार शुरू किया गया है। इस योजना के अंतर्गत एक किसान से शेडनेट और पाली हाउस का निर्माण कर साल के 365 दिन बेमौसम सब्जी, विदेशी सब्जी और फूल की खेती कर सकते हैं। सरकार की ओर से 75 प्रतिशत सब्सिडी दिया जा रहा है।

सहायक निदेशक उद्यान डा. अमृता कुमारी ने जानकारी दी कि विदेशी सब्जी, फूल और बेमौसम सब्जी की खेती को बढ़ावा देने हेतु शेडनेट और पाली हाउस के निर्माण पर सरकार की ओर से किसानों को 75 फीसद काम सब्सिडी दिया जा रहा है। इसके लिए जिले में 5000 वर्ग मीटर में सेट नेट और पाली हाउस निर्माण का लक्ष्य मिला है।

प्रतीकात्मक चित्र

योजना का लाभ लेने के लिए किसानों का ऑनलाइन आवेदन करना होगा। सरकार द्वारा पहले आओ पहले पाओ के आधार पर किसानों को लाभ दिया जाएगा। इस योजना से किसान बेमौसम सब्जी और विदेशी प्रभेद की खेती कर अपनी आमदनी में इजाफा कर सकते हैं। मालूम हो कि जिले में सब्जी की खेती का भूखंड कम है। बांका जिले में किसान कुछ प्रखंडों में ही सब्जी की खेती कर रहे हैं लेकिन धोरैया, रजौन आदि ब्लॉक में इसका रकबा कम है। पाली हाउस और शेड नेट से किसान आसानी से इसकी खेती कर सकेंगे।

जिले के ज्यादातर किसान पारंपरिक ढंग से सब्जी की खेती करते हैं। इससे उन्हें अधिक लाभ नहीं होता है। पाली हाउस और शेडनेट में सब्जी की खेती करने के बाद किसान अपनी आमदनी में बढ़ोतरी कर सकते हैं। कृषि विभाग के सहायक निदेशक ने बताया कि किसानों को लाभान्वित करने के लिए जागरुक करने का काम चल रहा है ताकि ज्यादा से ज्यादा किसानों को इसका लाभ मिले।