Connect with us

BIHAR

समस्तीपुर जिले के दलसिंहसराय में 93 करोड़ की लागत से इस जगह आरआरबी‌ का होगा निर्माण, जाम से मिलेगी मुक्ति

Published

on

दलसिंहसराय शहर के लोगों के लिए अच्छी खबर है। शहर के 32 नंबर रेलवे गुमटी पर लगने वाले भीषण जाम से लोगों को मितिन मिलेगी। बहुत जल्द वहां रेल ओवरब्रिज का निर्माण शुरू किया जाएगा। शनिवार की देर शाम केंद्र सरकार के परिवहन एवं हाईवे मंत्री नितिन गडकरी ने रेल ओवरब्रिज निर्माण को स्वीकृति देते हुए ऐलान किया। आरओबी निर्माण में 93 करोड़ की राशि खर्च होगी। नितिन गडकरी की घोषणा के बाद शहरवासियों में ब्रिज निर्माण की आस बढ़ गई है।

बता दें कि 32 नंबर रेलवे गुमटी दलसिंहसराय शहर को दो हिस्सों में बनती है। गुमटी के एक तरफ सरकारी दफ्तर, कोर्ट, प्रखंड कार्यालय, अनुमंडल कार्यालय अग्निशमन कार्यालय व प्राइवेट अस्पताल हैं, तो गुमटी के दूसरे और सड़क के प्रमुख बाजार व बस स्टैंड स्थित है। किसी भी इमरजेंसी की स्थिति में अग्निशमन गाड़ियों से लेकर रोगियों के लिए जाने वाली एंबुलेंस 32 नंबर गुमटी के जाम में रोजाना जुझती रहती है। कई बार तो मरीजों की मौत एंबुलेंस में ही हो जाती है।

प्रतीकात्मक चित्र

शहर का यह गुमटी हर बार चुनावी समय में मुद्दा बनता है। नगर निकाय चुनाव से लेकर लोकसभा चुनाव तक नेता इसे मुद्दा बनाते हैं। अब नितिन गडकरी की ऐलान के बाद चुनावी मुद्दे भी बदलेंगे। शहर की बढ़ती आबादी के साथ ही गाड़ियों की संख्या में लगातार हो रही बढ़ोतरी की वजह से कई सालों से आरओबी बनाने की मांग हो रही थी। शहर की जाम की बढ़ी समस्या से लेकर स्थानीय स्तर पर रेल और ब्रिज निर्माण की मांग लेकर मांग धीरे-धीरे तूल पकड़ने लगी।

उजियारपुर के सांसद में नित्यानंद राय ने लोकसभा चुनाव के दौरान रेल ओवरब्रिज निर्माण करने की घोषणा की थी। फिर यह मुद्दा पक्ष और विपक्ष दोनों के लिए बना हुआ था। हर बार चुनावी सीजन में लोगों से वायदे तो किए जाते थे लेकिन बाद में नेता भुला जाते थे। शहर के हर्ष चौधरी आरओबी निर्माण की स्वीकृति मिलने से बेहद खुश हैं। वे कहते हैं कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के ऐलान के बाद अब फिक्स हो गया है कि रेल ओवरब्रिज का निर्माण किया जाएगा।