Connect with us

BIHAR

दरभंगा को सौगात, 217 करोड़ के लागत से बनेगा 4 आरओबी, जल्द शुरू होगा निर्माण कार्य।

Published

on

दरभंगा में 4 आरओबी निर्माण को केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने मंजूरी प्रदान की है। इस बात की जानकारी दरभंगा के सांसद डॉ गोपाल जी ठाकुर ने दी। सांसद ने कहा कि 80 करोड़ खर्च कर दोनार गुमती, 36 करोड़ खर्च कर पंडासराय गुमती और 101 करोड़ खर्च कर दिल्ली मोड़ एवं बेला गुमती पर रेल ओवर ब्रिज निर्माण को मंजूरी मिल चुकी है और शीघ्र ही निर्माण कार्य शुरू होगा।

सांसद ने कहा कि मौजूदा समय में ट्रैफिक जाम की समस्या की वजह से आम लोगों को इन दिनों काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। दरभंगा में बढ़ रहे ट्रैफिक लोड के वजह से रेल ओवर ब्रिज का निर्माण बनाना बेहद जरूरी हो गया था। सांसद ने कहा कि चार रेल ओवरब्रिज के निर्माण होने से यातायात आसान होगा और शहर में जाम की समस्या से लोगों को निजात मिलेगी।

प्रतीकात्मक चित्र

सांसद ने कहा कि दरभंगा में रेल ओवरब्रिज निर्माण को लेकर कई बार केंद्रीय सड़क व परिवहन राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी और राज्य सरकार के मंत्री नितिन नवीन से मुलाकात कर चुके थे। उन्होंने कहा कि बाकी बचे आरओबी के निर्माण के लिए वह कोशिश में लगे हुए हैं और जल्द ही इसके निर्माण को मंजूरी मिल जाएगी। सांसद ने आरोपी निर्माण को मंजूरी देने के लिए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और राज्य सरकार के मंत्री नितिन नवीन का शुक्रिया अदा किया है।

भारत सरकार के भारतमाला परियोजना के तहत दरभंगा में राष्ट्रीय राजमार्गों का जाल बिछ रहा है। सांसद ने कहा कि बिहार में 7500 करोड़ की राशि खर्च कर 200 किलोमीटर लंबा राज्य का पहला एक्सप्रेसवे का तोहफा आमस-दरभंगा को दरभंगा को मिला। उन्होंने कहा कि भारत सरकार के द्वारा भारत माला धार्मिक संपर्क योजना के अंतर्गत उमगांव से महिषी तक निर्माण होने वाली सड़क को मंजूरी मिल गई है।

इस परियोजना पर कुल 3000 करोड़ की राशि खर्च होनी है और इस प्रोजेक्ट के तहत देश का सबसे लंबा पुल बनाया जाना है। उन्होंने कहा कि दरभंगा वासियों को परेशानी और बढ़ती आबादी के मद्देनजर रिंग रोड बनाने की भी जरूरत तो हो गई थी। बीते दिनों इसके निर्माण को केंद्रीय सरकार द्वारा हरी झंडी मिल चुकी है।

Trending