Connect with us

BIHAR

पटना से सटे दियारा क्षेत्र को गंगा धाम के रूप में किया जाएगा विकसित, पर्यटकों को वॉटर स्पोर्ट्स का मिलेगा आनंद।

Published

on

राजधानी पटना के समीप दियारा क्षेत्र में मां गंगा की 101 मीटर ऊंची मूर्ति लगेगी। गंगा धाम के रूप में दियारा इलाके को विकसित किया जाएगा। इस कोष में कितनी राशि खर्च होने वाली है इसके लिए डीपीआर तैयार की जा रही है। पर्यटन विभाग में गंगा धाम को विकसित करने का प्लान बनाया है। प्राइवेट निवेशकों के जरिए दियारा क्षेत्र को विकसित किया जाएगा।

पर्यटन विभाग को मिले प्रस्ताव के मुताबिक सोनपुर और पटना के मध्य सबलपुर दियारा क्षेत्र को गंगा धाम के रूप में विकसित करने की तैयारी है। योजना के अंतर्गत सबलपुर दियारा क्षेत्र में मां गंगा की 101 मीटर ऊंची मूर्ति स्थापित की जाएगी। इस इलाके में प्रतिमा स्थापित करने के साथ ही दो मंदिर भी बनाए जाएंगे।

प्रतीकात्मक चित्र

योजना को पूर्ण करने के लिए डीपीआर आईडीपीएस बना रही है। मिली जानकारी के मुताबिक डीपीआर जून तक बन जाएगी। इसके बाद प्रदेश सरकार के स्तर पर इस पर विचार किया जाएगा। कई विभाग गंगाधाम को विकसित करने में सहभागी बनेंगे। इसमें कला संस्कृति एवं युवा विभाग, परिवहन विभाग, पर्यटन विभाग और जल संसाधन विभाग प्रमुख रूप से शामिल है। योजना के मुताबिक गंगाधाम को एक सोसाइटी के रूप में डिवेलप किया जाएगा।

देश विदेश से पटना आने वाले सैलानियों को लुभाने के लिए गंगा म्यूजियम, स्टेडियम, गंगा रिलिजियन कन्वेंशन सेंटर, गंगा रिवर एक्यूरियम बनाया जाएगा। गंगा के बीच में यह पर्यटक स्थल होगा। पहले चरण में 40 एकड़ एरिया में गंगा धाम को विकसित करने की योजना है। दूसरे फेज में गंगा धाम को 108 एकड़ में विकसित किया जाएगा। गंगा धाम तक सैलानियों के पहुंचने के लिए बोट का प्रबंध रहेगा।

पर्यटन विभाग के द्वारा इसकी निगरानी की जाएगी। विभाग का प्रयास होगा कि गंगा धाम तक पहुंचने में पर्यटकों को किसी तरह की कोई असुविधा ना हो। इस योजना को अगले दो-तीन वर्षों में मूर्त रूप दे दिया जाएगा।