Connect with us

BIHAR

दरभंगा जिले के 75 जगहों पर विकसित होगा अमृत सरोवर, इसके लिए स्थानों का हुआ चयन, जाने पूरी कार्ययोजना

Published

on

दरभंगा जिले के 75 जगहों पर अमृत सरोवर विकसित किया जाएगा। इसके लिए सभी जगहों का चयन हो गया है। सरोवर के विकास को लेकर प्रक्रिया भी तेजी से जारी है। इसके लिए 77 जगहों को चिन्हित किया गया है। अमित सरोवर पोर्टल पर 29 जनों की प्रविष्टि भी हो गई है। बीते दिन मिशन अमृत सरोवर को लेकर हुई ऑनलाइन बैठक में यह जानकारी सामने निकल कर आई। बैठक में जिले के डीएम राजीव रोशन और ग्रामीण विकास विभाग के सचिव मौजूद थे।

ग्रामीण विकास विभाग के सचिव ने जानकारी दी कि जल संरक्षण के साथ ही आम लोगों की सुविधा के लिए हर जिले के 75 गांवों को अमृत सरोवर के रूप में विकसित करने की योजना है। कम से कम 1 एकड़ जमीन में सरोवर का निर्माण किया जाएगा। सरोवर की गहराई 10 फीट होगी। चारों ओर से इसका चौड़ीकरण किया जाएगा ताकि लोग आराम से इसके किनारे घूम सकें। सरोवर के साइड में पौधारोपण किया जाएगा और सौंदर्यीकरण भी किया जाएगा।

प्रतीकात्मक चित्र

बैठक संपन्न होने के बाद डीएम ने उप विकास आयुक्त व सभी संबंधित पदाधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि जिन 29 जगहों की प्रविष्टि पोर्टल पर हो चुकी है उनके विकास के लिए जल्द ही डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार की जाएं। इसकी निगरानी के लिए पंचायत स्तर पर एक कमेटी गठित की जाए। अमृत सरोवर के पास शिलापट्ट पर सदस्यों का नाम अंकित किया जाए। जो लोग सरोवर निर्माण में श्रम या आर्थिक सहायता करते हैं, उनका भी नाम अंकित किया जाए।

डीएम ने अधिकारियों को आर्थिक पहलू पर ध्यान आकर्षित कराया। इस तरह से इसे बनाया जाए कि सरोवर से मखाना का उत्पादन, मछली पालन या सिंचाई हो सके। सरोवर के अंदर का ढाल 45 डिग्री से ज्यादा ना हो। ऊपरी भाग में 30 फीट चौराहे में मिट्टी भरा जाए। उन्होंने पौधारोपण के बाद बेंच बनाने का भी निर्देश दिया। डीएम ने कहा कि काम शुरू करने के दौरान शहीद के परिजन, स्वतंत्रा सेनानी, पदम भूषण या पद्मश्री से सम्मानित व्यक्ति और महिलाओं को प्राथमिकता दें। उन्होंने कार्य शुरू करने के दौरान समारोह का आयोजन या पद यात्रा करने को कहा।