Connect with us

BIHAR

बिहार के इन 12 शहरों में एयरपोर्ट विकसित करने की है योजना, जल्द शुरू होगी भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया

Published

on

बिहार के नए शहरों से हवाई सेवा शुरू करने को लेकर दिन-ब-दिन सुगबुगाहट और तेज होती जा रही है। वर्तमान में बिहार के तीन एयरपोर्ट से सार्वजनिक परिवहन चालू है। राज्य के पटना, दरभंगा और गया एयरपोर्ट से लोग हवाई सफर कर रहे हैं। रक्सौल, गोपालगंज और भागलपुर एयरपोर्ट को चालू करने के लिए लगातार मांग तेज हो गई है।

राज्य के बिहटा एयरफोर्स की हवाई पट्टी भी चालू होने की स्थिति में है, लेकिन इसका सिर्फ सैन्य उपयोग होता है। पटना हाई कोर्ट के आदेश के बाद बिहार के मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने एयरपोर्ट का विस्तार को लेकर सोमवार को वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मीटिंग की।

प्रतीकात्मक चित्र

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कई जिले के डीएम की समीक्षा बैठक में सम्मिलित हुए। बैठक में दरभंगा, बिहटा, पटना और गया के अलावा गोपालगंज, फारबिसगंज, मुजफ्फरपुर, रक्सौल, पूर्णिया, सोनपुर, भागलपुर और मुंगेर में एयरपोर्ट विकसित करने को लेकर आदेश दिया गया। इस दौरान आमिर सुबहानी ने डीएम को निर्देश दिया कि जिन-जिन जिलों में एयरपोर्ट निर्माण को लेकर योजना प्रस्तावित है, वहां भूमि अधिग्रहण से लेकर बाकी लंबित कार्यो को जल्द से जल्द पूरा करने की कोशिश करें।

मुख्य सचिव ने कहा कि भूमि अधिग्रहण में यदि किसी राखी बाधा आ रही है तो राजस्व व भूमि सुधार विभाग के अधिकारियों से इस संबंध में सलाह लेने का सुझाव डीएम को दिया गया। निर्धारित समय सीमा के अंदर दरभंगा और बिहटा एयरपोर्ट के सभी कार्यों को पूरा करने के निर्देश मुख्य सचिव ने दिए।

बैठक में मुख्य सचिव के साथ कैबिनेट के अपर मुख्य सचिव, सचिव व विकास आयुक्त और दूसरे अधिकारी उपस्थित रहें। बता दें कि लोकनायक जयप्रकाश नारायण, पटना एयरपोर्ट के विकल्प के तौर पर बिहटा एयरपोर्ट को विकसित करने की तैयारी है। चुकि, पटना एयरपोर्ट पर बड़े विमान के लैंडिंग के लिए पर्याप्त मात्रा में जगह की कमी है।