Connect with us

BIHAR

बरौनी के इन तीन जगहों पर बनेगा फ्लाईओवर, जल्द निकलेगा टेंडर, लाखों की आबादी को मिलेगा इसका लाभ

Published

on

न्यू बरौनी जंक्शन के पश्चिमी गुमटी, बरौनी फ्लैग स्टेशन के पूर्वी गुमटी और बरौनी जंक्शन के पश्चिम अंबे सिनेमा हॉल गुमटी पर 240 करोड़ की राशि खर्च कर आरओबी बनाया जाएगा। सोनपुर रेल मंडल प्रबंधक कार्यालय की ओर से प्राक्कलन राशि बना कर अपनी भागीदारी का तकरीबन 200 करोड़ रुपये की राशि बिहार राज्य पुल निर्माण निगम लिमिटेड के हवाले करने का लेटर जारी कर दिया गया है।

जानकारी के मुताबिक रेलवे अपनी भागीदारी के अनुसार जिन फ्लाईओवर बनाने के लिए राशि की आवंटन की है, उनमें बरौनी गांव (बरौनी तेघड़ा 9 विशेष के उपर रोड पुल निर्माण) हेतु 73.23 करोड़, अम्बे सिनेमा गुमती जो बरौनी तेघड़ा 7बी समपार फाटक के ऊपर रोड पुल निर्माण हेतु 75.54 करोड़ रुपए और 21.71 करोड़ राजवाड़ा गुमती के लिए आरओबी बनाने के लिए रेलवे द्वारा राशि आवंटन किया गया है।

बरौनी जंक्शन पश्चिमी गुमती 7 बी फ्लाईओवर के बनने से दर्जनों गांव को फायदा होगा। जानकार बताते हैं कि 7 बी पर फ्लाईओवर बनने के लिए अंबे सिनेमा और मालगोदम के नजदीक पहुंच पथ के साथ पुल बनाने का कार्य शुरू होगा जो वाटिका चौक दुर्गा मंदिर के समीप कोल बोर्ड से मिलेगा। इस फ्लाईओवर के बनाने के लिए रेलवे द्वारा 75.54 करोड़ राशि दी गई है। इसमें राज्य सरकार को 40 करोड़ से ज्यादा राशि का समायोजन कर टेंडर किया जाना है। लगभग 110 करोड़ की राशि खर्च कर इस फ्लाई ओवर को‌ बनाया जाएगा।

i

जानकारों की मानें तो फ्लाईओवर बनाने में बिहार सरकार और रेलवे दोनों की भागीदारी होती है। नए नियम के मुताबिक बिहार सरकार पुल निर्माण निगम द्वारा टेंडर निकाला जाएगा, जिसमें विभाग के प्रक्रिया अंतिम दौर में है। इस फ्लाईओवर के बनने से अमरपुर, गढ़हरा, जयनगर, सिमरिया, निपनियां, मधुरापुर, बारो एवं गंगाप्रसाद के एक लाख से ज्यादा आबादी मुख्य बाजार से संपर्क स्थापित कर वित्तीय रूप से समृद्ध हो पाएगी। इसमें किसान को डायरेक्ट रूप से लाभ मिलेगा।

कोल बोर्ड रोड राजवाड़ा भगवती स्थान से 200 मीटर आगे से पहुंच पथ के साथ पुल बनाने का काम शुरू होकर ठकुरीचक की तरफ मृगेंद्र कोल्ड स्टोरेज के नजदीक मिलेगा। इस पुल के निर्माण में लगभग 50 करोड़ रूपए की राशि खर्च होगी। जबकि 9 स्पेशल बरौनी फ्लेग गुमती बनाने लिए पहुंच पथ के साथ अवध तिरहुत सड़क में बरियारपुर चौक के 200 मीटर आगे से पहुंच पथ के साथ पुल बनाने का काम शुरू होगा। यह तेघड़ा की तरफ बरौनी फ्लैग काली मंदिर के समीप मुख्य रोड से जाकर मिलेगी। लगभग 100 करोड़ रुपए की राशि इस फ्लाईओवर के निर्माण में खर्च होगी।

जानकार बताते हैं कि दोनों फ्लाईओवर का निर्माण बिहार सरकार और रेलवे के सहभागिता से हो रहा है। बिहार पुल निर्माण निगम विभाग के हवाले रेलवे ने अपनी हिस्सेदारी की राशि कर दी है। अब अपनी हिस्सेदारी के साथ बिहार सरकार टेंडर निकालेगी जिसको लेकर अंतिम चरण में प्रक्रिया चल रही है। इन दोनों पुलों के बनने से बरौनी और तेघरा की ओर रोजाना हजारों की संख्या में व्यवसायिक गाड़ियों, निजी गाड़ियों और बाइक से आने जाने लोगों का समय बचेगा।