Connect with us

BIHAR

बिहार के इस जिले में खुला देश का पहला- ग्रीनफील्ड ग्रेन बेस्ड इथेनॉल प्लांट, CM नीतीश ने किया उद्धघाटन

Published

on

बिहार में उद्योग के क्षेत्र में पूर्णिया जिले को बड़ा तोहफा मिला है। 105 करोड़ रुपए की राशि से बने इथोनॉल प्लांट का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को शुभारंभ किया। इथोनॉल प्लांट का उद्घाटन पूर्णिया के परोरा में किया गया। भारत और बिहार सरकार की इथेनॉल पॉलिसी-2021 के बाद यह पहला इकाई बनकर तैयार हुआ है। 105 करोड़ रुपए की लागत से इथोनॉल प्लांट को इंडिया बायोफ्यूल्स प्राइवेट लिमिटेड ने बनाया है। एक दिन में अधिकतम 65 हजार लीटर एथेनॉल उत्पादन की क्षमता है।

उद्घाटन के मौके पर रहे राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ ही, प्रदेश के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन, राज्य सरकार के खाद्य एवं उपभोक्ता मामले के मंत्री लेसी सिंह, स्थानीय विधायक, सांसद और प्रतिनिधि मौजूद रहें। शुभारंभ करने के बाद सीएम नीतीश कुमार ने उपस्थित मंत्रियों के साथ प्लांट का जायजा लिया और उसके बाद पौधारोपण भी किया।

बता दें कि रोजाना इस प्लांट से 27 टन एनिमल फीड तैयार करने के लिए जो पोषक तत्व से भरे रॉ मटेरियल की आवश्यकता होती है यह बायोप्रोडक्ट के रूप में इसका उत्पादन होगा। रोजाना इस प्लांट में लगभग 150 टन मक्के या चावल की जरूरत पड़ेगी। किसानों के लिए यह काफी कारगर साबित होगा। इतनी बड़ी मात्रा में खपत के लिए किसानों को बिक्री करने हेतु स्थाई जगह मिलेगा।

बताते चलें कि केंद्र और राज्य सरकार एथेनॉल नीति-2021 के बाद देश का पहला प्लांट पूर्णिया में बना है। इसके बाद कई और जगहों पर प्लांट का निर्माण कार्य चल रहा है। साल 2020 में इस प्लांट का निर्माण काम शुरू करना था, किंतु कोविड के वजह से काम प्रभावित हो गया था।