Connect with us

BIHAR

बिहार के इस जिले में नीरा बॉटलिंग शुरू, प्रतिदिन 1500 लीटर नीरा की बॉटलिंग, DM ने किया निरीक्षण

Published

on

बिहार शरीफ के बाजार समिति कैंपस में कॉम्फेड की ओर से संचालित नीरा इकाई में बीते दिन यानी गुरुवार से नीरा की बॉटलिंग शुरू हो गई है। बॉटलिंग के पहले दिन करियन्ना, इतासंग स्थित बल्क नीरा चिलिंग सेंटर और दीपनगर से तकरीबन 1500 लीटर कच्चा नीरा बॉटलिंग इकाई में तीन रेफ्रिजरेटेड गाड़ियों से पहुंचा। मीरा को प्यूरीफायर करने के बाद 200 मिलीलीटर के 7500 नीरा का बॉटल बनाया जाएगा।

गुरुवार को बॉटलिंग प्लांट का अवलोकन जिले के डीएम शशांक शुभंकर ने किया। डीएम ने बॉटलिंग प्लांट में पूरी प्रक्रिया को विस्तार रूप से जाना। उन्होंने बॉटलिंग प्लांट को रोजाना कम से कम 1500 लीटर नीरा की आपूर्ति डीपीएम जीविका को सुनिश्चित कराने का आदेश दिया।

इस बॉटलिंग इकाई की अधिकतम क्षमता 4000 लीटर रोजाना की है। पाश्चराइजेशन के बाद बोतल में पैक कर नीरा की बिक्री पटना एवं नालंदा के अलग-अलग इलाकों में किया जाएगा। बिहार स्टेट मिल्क कोऑपरेटिव फेडरेशन लिमिटेड के द्वारा वितरकों की नियुक्ति कर दी गई है।

बॉटलिंग प्लांट के निरीक्षण के दौरान डीएम के साथ नालंदा डेरी के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर पीके सिंहा, उप विकास आयुक्त, डीपीएम जीविका व अलग-अलग प्रखंडों के बीपीएम तथा अन्य अधिकारी मौजूद थे। बता दें कि भीषण गर्मी को देखते हुए पटना के जिला अधिकारी डॉ चंद्रशेखर सिंह ने राजधानी के 20 नए जगहों पर नीरा काउंटर खोलने का आदेश दिया है।