Connect with us

BIHAR

बिहार के इन चार जिलों में रिंग रोड बनने की बढ़ी उम्मीद, फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार करने को मिला निर्देश

Published

on

गुरुवार को राजधानी दिल्ली में बिहार सरकार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने केंद्र सरकार के सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात की। इस दौरान बिहार के दरभंगा, भागलपुर, गया और मुजफ्फरपुर में रिंग रोड बनाने पर विचार हुआ। इस मुलाकात के बाद नितिन नवीन ने बताया कि चारों रिंग रोड के निर्माण पर हुई बात सकारात्मक रहा। जल्द ही स्वीकृति मिलने की उम्मीद है। इन चारों शहरों के रिंग रोड निर्माण के लिए नितिन गडकरी ने नेशनल हाइवे अथॉरिटी आफ इंडिया को फीजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार करने का आदेश दिया है।

केंद्रीय मंत्री को नितिन नवीन ने अवगत कराया कि भागलपुर, गया, दरभंगा और मुजफ्फरपुर राज्य के प्रमुख शहर हैं। हाल के सालों में इन शहरों में ट्रैफिक का लोड काफी बढ़ा है। ट्रैफिक लोड को सामान्य करने के लिए रिंग रोड निर्माण की आवश्यकता है। गया के बारे में पथ निर्माण मंत्री ने कहा कि पर्यटन के लिहाज से यह शहर काफी महत्वपूर्ण है। यह राज्य का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। रिंग रोड और बाईपास नहीं होने से पर्यटकों को आने जाने में दिक्कत होती है।

दरभंगा की गिनती बिहार के पांचवें सबसे बड़े शहर में होती है। दरभंगा को राज्य की सांस्कृतिक राजधानी के तौर पर देखा जाता है। शहर में रिंग रोड और बाईपास नहीं रहने से जाम की समस्या उत्पन्न हो जाती है। मुजफ्फरपुर में भी गाड़ियों का लोड अत्यधिक है। शहर को जाम की समस्या से निजात दिलाने हेतु रिंग रोड निर्माण की जरूरत है। बता दें कि बिहार के चार शहरों में रिंग रोड निर्माण की योजना है। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के साथ मुलाकात करने के बाद पथ परिवहन मंत्री ने इसे सकारात्मक बातचीत बताया। जल्द ही इस योजना को हरी झंडी मिलने की उम्मीद है।