Connect with us

BIHAR

बिहार के इस जिले में बनेगा मेगा टैक्सटाइल पार्क, उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने की घोषणा

Published

on

बांका या भागलपुर जिले में मेगा टैक्सटाइल पार्क की स्थापना की जा सकती है। भागलपुर शहर में इसके लिए जमीन नहीं मिल रही है। जगदीशपुर में भूमि की ज्यादा कीमत है। बांका जिले के कटोरिया और रजौन में पर्याप्त मात्रा में जमीन उपलब्ध है। मेगा टैक्सटाइल पार्क वहीं खुलेगा जहां जमीन उपलब्ध होगी। भागलपुर के रेशम भवन में आयोजित कार्यक्रम में बिहार सरकार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने ये बातें कहीं। मंत्री ने कहा कि भागलपुर में जमीन नहीं उपलब्ध होने के वजह से बेतिया में मेगा टैक्सटाइल पार्क चला गया।

उद्योग मंत्री ने कहा कि मेगा टेक्सटाइल पार्क एक और जगह खुलना है। इसके लिए 19 एकड़ भूमि की जरूरत है। बकाया भागलपुर जहां भी जमीन की उपलब्धता होगी वहां मेगा टैक्सटाइल पार्क बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि आयुर्वेद कॉलेज के लिए डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट बन रहा है। मंत्री ने कहा कि शहर के दक्षिणी इलाके में स्मार्ट सिटी योजना के तहत भी काम होना जरूरी है। वहां कोई भी काम देखने को नहीं मिल रहा है।

मंत्री शाहनवाज हुसैन ने मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के 513 लाभार्थियों को 10 लाख की अनुदान राशि का स्वीकृति पत्र दिया। मंत्री ने इस दौरान कहा कि अच्छा उद्यम प्रारंभ करने के लिए पर्याप्त मात्रा में राशि है, हर कदम पर सरकार सहयोग करेगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के तहत लाभार्थियों को मिलने वाली 10 लाख की राशि में से 5 लाख रुपए अनुदान दिया जाता है। इससे सैकड़ों छोटे-छोटे स्टार्टअप शुरू किए जा सकते हैं। आने वाले दिनों में यह उद्योग बहुत बड़ा उद्योग में बदलेगा।

उद्योग मंत्री ने कहा कि अपने उद्योग को कामयाब बनाने के लिए राज्य के युवाओं को पूरी शिद्दत और मेहनत से काम करना होगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री उद्यमी योजना से लाभान्वित होने वाले लोगों के चेहरे पर मैंने विशेष रौनक देखी है। बेरोजगार कोई नहीं रहेगा। 15 से 20 की संख्या में लोगों को रोजगार उपलब्ध कराना है। मंत्री ने कहा कि कोई भी काम करने में सबसे बड़ी बाधा पूंजी होती है। सरकार ने इस योजना के तहत 10 लाख रुपए का प्रबंध कर के अलग-अलग वर्गों के उद्यमियों के लिए पर इस समस्या को सॉल्व कर दिया है।