Connect with us

JHARKHAND

लोहरदगा से वाराणसी तक बनेगा इकोनॉमिक कॉरिडोर, झारखंड के इन 6 जिलों को मिलेगा लाभ

Published

on

भारत सरकार का ध्यान इन दिनों ढांचागत विकास पर हैं। इसी कड़ी में झारखंड में दो एक्सप्रेसवे परियोजना के साथ तीसरे एक्सप्रेस-वे निर्माण को लेकर भी कार्य योजना बनी है। इसके साथ झारखंड के 4 जिले बुलेट ट्रेन परियोजना में शामिल है। अब नई खबर मिल रही है कि इसके मुताबिक वाराणसी से लोहरदगा इकोनामिक कॉरिडोर निर्माण को लेकर कार्य योजना तैयार कर लिया गया है। बहुत जल्द इसे मंजूरी मिल सकती है।

हाल ही में भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने अपने बयान में कहा था कि लोहरदगा के कुडू से वाराणसी के विंढमगंज तक इकोनॉमिक कॉरिडोर का उल्लेख किया गया। पांच पैकेज में यह सड़क बनेगी। झारखंड में दो हिस्से होंगे, अनुमान है कि इसपर 1500 करोड़ से ज्यादा की लागत आएगी। चार लेन की यह रोड रांची के बीजूपाड़ा-लोहरदगा के कुड़ू, लातेहार, पलामू व गढ़वा के रास्ते उत्तर प्रदेश से जुड़ेगी। 202 किलोमीटर लंबी सड़क का 90 किलोमीटर हिस्सा झारखंड में होगा।

बता दें कि केंद्र सरकार व इस मामले के मंत्री खुद नितिन गडकरी पूरे देश में सड़क कनेक्टिविटी बेहतर करने को लेकर लगातार नई-नई परियोजनाओं को स्वीकृति प्रदान कर रहे हैं। बिहार में भी एक्सप्रेस वे और कई महत्वपूर्ण सड़कों के निर्माण के लिए मंजूरी प्रदान की गई है। अब नई जानकारी के मुताबिक लोहरदगा से वाराणसी तक इकोनॉमिक कॉरिडोर बनेगा। इस परियोजना से झारखंड के छह जिलों को फायदा होगा।